Tuesday , December 19 2017

ट्राफिक बहाव में आसानी पैदा करने के लिये इक़दामात

ग्रेटर हैदराबाद म़्यूनिसिपल कारपोरेशन ट्राफिक पोलीस के इश्तिराक से मुंबई और बैंगलौर की तर्ज़ पर एक नए ट्राफिक सिस्टम को रूशनास करने की मंसूबा बंदी कर रही है जहां उसे सिग्नल्स नसब किए गए हैं जिस से ट्राफिक के बहाव में आसानी हो।

ग्रेटर हैदराबाद म़्यूनिसिपल कारपोरेशन ट्राफिक पोलीस के इश्तिराक से मुंबई और बैंगलौर की तर्ज़ पर एक नए ट्राफिक सिस्टम को रूशनास करने की मंसूबा बंदी कर रही है जहां उसे सिग्नल्स नसब किए गए हैं जिस से ट्राफिक के बहाव में आसानी हो।

इस सिस्टम को एच टी ओ आई एम इस के साथ अंजाम देते हुए तीन माह में मुकम्मल करलिया जाएगा । बताया गया कि रविनदरा भारती और तेलूगू यूनीवर्सिटी के दरमियान का फ़ासिला सिर्फ़ सात सौ गज़ है ताहम यहां तीन ट्राफिक सिग्नल्स पर रुकना पड़ता है।

इस के सबब फ़ासिला तए करने में 5 ता 7 मिनट लग जाते हैं ताहम नए ट्राफिक सिस्टम के सबब इन तमाम सिग्नल्स को ग्रीन करदिया जाएगा और कम वक़्त में रास्ता तए होगा । नए सिस्टम को राइज करने के लिये कारपोरेशन और ट्राफिक पोलीस की जानिब से बी ई अल के हमराह एक मुशतर्का सर्वे अंजाम दिया गया।

बी ई एल की जानिब से एच टी आर आई एम उस को आलात सरबराह किए जाएंगे । तीन सिग्नल्स को ग्रीन करदेने के सबब 6 मिनट वक़्त की बचत होगी और ट्राफिक की रफ़्तार में 16 किलो मीटर फ़ी घंटा के मुक़ाबिल 36 किलो मीटर फ़ी घंटा होगी।

स्टडी में बताया गया कि उन रास्तों को तए करने में 20 मिनट की जगह सिर्फ़ 6 मिनट सर्फ़ होंगे । इस नए सिस्टम को जल्द नाफ़िज़ किया जाएगा ।।

TOPPOPULARRECENT