Thursday , September 20 2018

ट्रेन की बोगी पर अब नहीं लगाए जायेंगे रिजर्वेशन चार्ट, रेलवे के खत्म करने का फैसला किया

नई दिल्ली। 1 मार्च से भारतीय रेलवे में बड़ा बदलाव होने जा रहा है। ये बदलाव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया मिशन के तहत होगा। दरअसल, 1 मार्च से आपको ट्रेन के डिब्बों में रिजर्वेशन चार्ट नजर नहीं आएगा।

भारतीय रेलवे ने रिजर्वेशन चार्ट व्यवस्था को खत्म करने का फैसला किया है। ये कदम रेलवे के डिजिटलीकरण की दिशा में उठाया गया एक बड़ा अहम कदम है।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, रिजर्वेशन चार्ट की जगह अब रेलवे स्टेशनों पर प्लाज्मा स्क्रीन को लगाने पर विचार किया जा रहा है। हालांकि अभी इसकी कोई औपचारिक घोषणा नहीं की गई है। प्लाज्मा स्क्रीन रेलवे स्टेशनों पर लगने के बाद आप अपने पीएनआर और अपने सीट की स्थिति देख सकते है।

इसी डिजिटल स्क्रीन पर आपकी यात्रा से जुड़ी तमाम जानकारी होगी। 1 मार्च से रेलवे ने ए1, ए और बी कैटेगरी के सभी स्टेशनों से होकर गुजरने वाली ट्रेनों के डिब्बों पर रिजर्वेशन चार्ट नहीं लगाने का निर्देश दिया है।

ये आदेश 1 मार्च से शुरू होकर अगले 6 महीनों तक जारी रहेगा। इसे 6 महीने के ट्रायल पर शुरू किया जा रहा है। अगर ट्रायल सफल रहा तो इसे बाकी के स्टेशनों पर भी लागू किया जाएगा।

आपको बता दें कि इससे पहले 3 महीने के लिए रेलवे इसे नई दिल्ली, हज़रत निजामुद्दीन, मुम्बई सेंट्रल, चेन्नई सेंट्रल, हावड़ा और सीयाल्दाह स्टेशन से चलने वाली ट्रेनों पर लागू कर चुकी है।

आपको बता दें कि इस फैसले के संकेत गुरुवार को केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दे दिए थे, जब उन्होंने रेल मंत्रालय यूरोपीय ट्रेन नियंत्रण प्रणाली की तर्ज पर आधुनिक सिग्नल प्रणाली की योजना की जानकारी दी थी।

गोयल ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आधुनिक सिग्नल प्रणाली से सुरक्षा जोखिमों को कम किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि यह प्रणाली लागू होने के बाद अपराध नियंत्रण में भी मदद मिलेगी और देश में ट्रेन यात्रा अधिक सुरक्षित हो सकेगी।

TOPPOPULARRECENT