Thursday , May 24 2018

ट्रैफिक नियम तोड़ने का अब पुलिस के पास रहेगा रिकॉर्ड, शहर में कटने लगा ई-चालान

हरमू के सहजानंद चौक पर ट्रैफिक एसपी वाइएस रमेश ने इ-चालान शुरू किया। जुमे के दिन के 12 से एक बजे तक इ-चालान के जरिये गाड़ियों से जुर्माना वसूला गया। एक घंटे में 43 गाड़ियों से इ-चालान के जरिये 9410 रुपये वसूले गये। ट्रैफिक एसपी ने कहा कि झार

हरमू के सहजानंद चौक पर ट्रैफिक एसपी वाइएस रमेश ने इ-चालान शुरू किया। जुमे के दिन के 12 से एक बजे तक इ-चालान के जरिये गाड़ियों से जुर्माना वसूला गया। एक घंटे में 43 गाड़ियों से इ-चालान के जरिये 9410 रुपये वसूले गये। ट्रैफिक एसपी ने कहा कि झारखंड के इ-चालन का सॉफ्टवेयर दीगर मेट्रो सिटी ही नहीं , बल्कि बेंगलुरु के सिस्टम से भी अच्छा है।

तीन बार से ज़्यादा पकड़े जाने पर लाइसेंस मंसूख होगा

ट्रैफिक एसपी ने कहा तीन बार से ज़्यादा पकड़े जाने पर गाड़ी ड्राइवर का लाइसेंस मंसूख कर दिया जायेगा। इ-चालान का सारा डाटा पुलिस महकमा के कंप्यूटर में फीड रहेगा। उसमें गाड़ी ड्राइवर के नियम तोड़ने की दफा के तहत काटा गये जुर्माना का जिक्र रहेगा। इसकी बुनियाद पर गाड़ी ड्राइवरों पर कार्रवाई की जायेगी।

एसपी के रिश्तेदार ने भी भरा जुर्माना

निगरानी एसपी राजकुमार लकड़ा का एक रिश्तेदार बिना हेलमेट के सहजानंद चौक के पास से गुजर रहा था। उसे पुलिस ने पकड़ लिया। पकड़े जाने के बाद वह चालन काट रहे जगन्नाथपुर(ट्रैफिक) थाना प्रभारी संतोष कुमार को अपना तररूफ़ कराया, लेकिन ट्रैफिक पुलिस ने उनकी एक न सुनी और जुर्माना वसूला।

प्रज्ञा केंद्र में जमा होगी जुर्माने की रकम

मौके पर जुर्माने की रकम नहीं देने पर रकम ट्रैफिक पुलिस या प्रज्ञा केंद्र में जमा की जा सकती है। तीन दिन के अंदर जुर्माना की रकम जमा नहीं करने पर उस गाड़ी के ड्राइवर का डिटेल कार्रवाई के लिए अदालत भेज दिया जायेगा।

TOPPOPULARRECENT