ट्विटर का ट्वीट कैरेक्टर की संख्या 140 से बढ़ाकर 280 कैरेक्टर करने का फैसला

ट्विटर का ट्वीट कैरेक्टर की संख्या 140 से बढ़ाकर 280 कैरेक्टर करने का फैसला
Click for full image

नई दिल्लीः  ट्विटर ने ट्वीट कैरेक्टर की संख्या 140 से बढ़ाकर 280 कैरेक्टर करने का फैसला किया है. ये लिमिट पहले की तुलना में दोगुनी होगी. इसे लेकर टेस्टिंग शुरू हो गई है. हालांकि ये अभी टेस्टर फेज है जल्द ही ये सभी ट्विटर यूजर के लिए उपलब्ध होगा. ट्विटर ने अपने ब्लॉगपोस्ट के जरिए ये जानकारी दी. ट्विटर ने कहा कि ये कठिन है कि यूजर को 140 शब्दों की लिमिट को ध्यान में रखते हुए अपने विचारों को एडिट करना पड़ता है. लगभग 9 फीसदी ट्विट्स पूरे 140 कैरेक्टर के साथ किए जाते हैं. अब शब्दों की लिमिट दोगुनी करने के बाद हमें उम्मीद है कि लोगों शब्दों को लेकर ये परेशानी कुछ दूर होगी. यह पहली बार नहीं है जब ट्विटर ने करैक्टर की संख्या बढ़ाने की ओर कदम बढ़ाया है. इससे पहले 2016 के शुरुआत में भी ट्विटर करैक्टर की संख्या 10 हजार करने पर गंभीरता से विचार कर रहा था. उस समय सीईओ जैक डोर्सी ने आखिरी समय में अपने कदम पीछे कर लिए थे और वह अपडेट लागू नहीं हो पाया था.

टेस्ट‍िंग प्रोसेस के दौरान चुनिंदा ट्विटर यूजर्स को 280 करैक्टर्स वाले ट्वीट करने की सुविधा मिलेगी. इसके बाद टेस्ट सफल होने पर सभी के लिए यह 280 करैक्टर्स वाले ट्वीट हकीकत बन जाएंगे. टेक्स्ट के दिनों से ही ट्वीट में करैक्टर्स की संख्या लिमिटेड थी. शुरुआत में 160 करैक्टर होने के बाद इसकी संख्या 140 पर सीमित कर दी गई थी.  ब्लॉग पोस्ट के अनुसार  करैक्टर्स की संख्या लिमिटेड होने की वजह से कई बार यूजर्स को कुछ खास शब्द हटाने पड़ते थे. कई बार तो इस वजह से लोग ट्वीट ही नहीं करते थे. ऐसे में जब 140 करैक्टर की सीमा से यूजर्स आजाद हो जाएंगे तो कई नए लोग ट्विटर से जुड़ेंगे. ट्व‍िटर को भरोसा है कि करैक्टर सीमा बढ़ने से ज्यादा से ज्यादा लोग अब ज्यादा से ज्यादा ट्वीट करेंगे.

एक ग्राफ के जरिए बताया गया है कि जापानी भाषा में अधिकांश ट्वीट 15 कैरक्टर में होते हैं, अंग्रेजी में ट्वीट करने वालों में कैरेक्टर लिमिट को लेकर काफी निराशा है और उन्हें अपना ट्विट छोटा करना पड़ता है. ब्लॉग में कहा गया कि, ‘हम चाहते हैं कि दुनिया भर में हर व्यक्ति खुद को ट्विटर पर आसानी से व्यक्त कर सके. इसलिए हम ट्वीट की इसकी लिमिट बढ़ाकर 280 कर रहे हैं. हालांकि, यह अभी कुछ ग्रुप में ही मौजूद है. हमें इसे सभी के लिए लॉन्च करने से पहले छोटे ग्रुप में इसकी टेस्टिंग पर काम कर रहे हैं.

Top Stories