Sunday , November 19 2017
Home / Sports / डब्ल्यूबीओ ने विजेंदर और जुल्फिकार के बीच एशिया के सबसे बड़े मुकाबले को मंजूरी दी

डब्ल्यूबीओ ने विजेंदर और जुल्फिकार के बीच एशिया के सबसे बड़े मुकाबले को मंजूरी दी

नई दिल्ली: वर्ल्‍ड बॉक्‍सिंग फेडरेशन  ( डब्ल्यूबीओ) ने विजेंदर सिंह और चीन के जुल्फिकार मैमैतीअली के बीच अगस्त के पहले सप्ताह में मुंबई में होने वाले डब्ल्यूबीओ एशिया पैसेफिक सुपर मिडिलवेट खिताब और डब्ल्यूबीओ ओरिएंटल सुपर मिडिलवेट खिताब के लिए होने वाले मुकाबले को मंजूरी दे दी है. विजेंदर अभी वर्तमान में डब्ल्यूबीओ एशिया पैसेफिक सुपर मिडिलवेट चैंपियन हैं जबकि जुल्फिकार डब्ल्यूबीओ ओरिएंटल सुपर मिडिलवेट चैंपियन हैं. आईओएस बॉक्सिंग प्रमोशन के प्रमोटर नीरव तोमर ने कहा, ‘हमें यह जानकर खुशी है कि डब्ल्यूबीओ ने विजेंदर और जुल्फिकार के बीच एशिया के सबसे बड़े मुकाबले को मंजूरी दी है. अब मंजूरी मिल चुकी है और हम मुंबई में इसकी तिथि तय करने के लिये जुल्फिकार की टीम के साथ मिलकर काम कर सकते हैं.’ ये दोनों ही डब्ल्यूबीओ खिताब धारक अपने देशों क्रमश: भारत और चीन में नंबर एक मुक्केबाज हैं. ये दोनों ही पेशेवर मुक्केबाज बनने के बाद अजेय हैं.

इस मुकाबले में इन दोनों मुक्केबाजों के खिताब दांव पर लगे होंगे और यह मुकाबला दोहरे खिताब के लिए होगा. जो भी मुक्केबाज जीतेगा वह अपने खिताब का बचाव तो करेगा ही साथ ही दूसरे का खिताब भी उसके पास आ जाएगा. मुकाबले के आखिर में उसके पास बेल्ट होंगी.

गौरतलब है कि विजेंदर के नाम पर पेशेवर मुक्केबाजी में आठ जीत दर्ज हैं जिनमें से सात उन्होंने नॉकआउट और एक सर्वसम्मत फैसले से जीती. उन्हें 30 राउंड रिंग में बिताने का अनुभव है. जुल्फिकार ने भी आठ मुकाबले लड़े हैं और उन्हें 24 राउंड का अनुभव है.

TOPPOPULARRECENT