Thursday , December 14 2017

डाक्टरों से लड़ने पर तीन साल तक जेल

रांची 14 मई : सलाहकार कोंसिल ने डॉक्टरों और तबी खिदमत से वाबस्ता लोगों के साथ मारपीट करने या उनकी जायदाद को नुकसान पहुंचानेवालों को सजा देने से मुताल्लिक एक्ट को भी मंजूरी दे दी। अब डॉक्टरों और तबी खिदमत से वाबस्ता लोगों के साथ मारप

रांची 14 मई : सलाहकार कोंसिल ने डॉक्टरों और तबी खिदमत से वाबस्ता लोगों के साथ मारपीट करने या उनकी जायदाद को नुकसान पहुंचानेवालों को सजा देने से मुताल्लिक एक्ट को भी मंजूरी दे दी। अब डॉक्टरों और तबी खिदमत से वाबस्ता लोगों के साथ मारपीट करने या उनकी जायदाद को नुकसान पहुंचानेवालों पर गैर जमानती दफात लगेंगी। वाकिया को अंजाम देनेवाले को कम से कम तीन साल की सजा होगी। साथ ही 50 हजार रुपये तक का जुर्माना लगाया जायेगा। डॉक्टरों की इम्लाक को नुकसान पहुंचानेवालों को हर्जाना चुकाना होगा। कोर्ट चाहे, तो ऐसा करनेवाले को जायदाद के कुल कीमत से दोगुना हर्जाना चुकाने का हुक्म दे सकता है। डॉक्टर, नर्स, मेडिकल तालिब इल्म, पारा मेडिकल स्टॉफ को तबी खिदमत की फेहरिस्त में रखा गया है।

TOPPOPULARRECENT