डाक्टर सय्यद बशीर अहमद की किताब तजल्लियात-ए-रहमानी की इशाअत

डाक्टर सय्यद बशीर अहमद की किताब तजल्लियात-ए-रहमानी की इशाअत
हैदराबाद १६ मूक़र अख़बार सियासत के अदबी कालम निगार डाक्टर सय्यद बशीर अहमद की किताब तजल्लियात रहमानी शाय हो चुकी है जिस की रस्म इजराअनक़रीब होने वाली है जिस में हैदराबाद के मशहूर-ओ-मारूफ़ उन बुज़्रगान-ए-दीन का तआरुफ़ है । इस किताब

हैदराबाद १६ मूक़र अख़बार सियासत के अदबी कालम निगार डाक्टर सय्यद बशीर अहमद की किताब तजल्लियात रहमानी शाय हो चुकी है जिस की रस्म इजराअनक़रीब होने वाली है जिस में हैदराबाद के मशहूर-ओ-मारूफ़ उन बुज़्रगान-ए-दीन का तआरुफ़ है । इस किताब की क़ीमत सिर्फ 50/- रुपय है। किताब में शामिल बेशतर मज़ामीन सियासत के हफ़तावारी कालम में शाय हो चुके हैं।

Top Stories