Saturday , November 18 2017
Home / Featured News / डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर के बेटे पर हमले के बाद आज़मपूरा में कशीदगी

डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर के बेटे पर हमले के बाद आज़मपूरा में कशीदगी

हैदराबाद 03 फरवरी:हैदराबाद में राय दही के दिन शिकस्त के ख़ौफ़ से बौखलाहट का शिकार MIM जमात के क़ाइदीन ने डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर के घर पर हमला कर दिया और इस हमले में डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर महमूद अली के बेटे आज़म अली ख़ुर्रम और उनके हामीयों को मारपिट का निशाना बनाया गया। ताज्जुब की बात तो ये है कि टीआरएस लीडर आज़म अली ख़ुर्रम पर उस वक़्त हमला किया गया जब वो अपने मकान में दाख़िल हो चुके थे।

उन्हें अपने मकान से बाहर निकाल कर हमला किया गया। इस वक़्त ख़ुद डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर महमूद अली अपने मकान पर मौजूद थे। बताया जाता है कि टीआरएस लीडर आज़म अली ख़ुर्रम को तमांचे रसीद किए गए। इस दौरान टीआरएस कारकुनों ने उन्हें हमला आवरों से बचा लिया। हमला आवरों में रुकने असेंबली मलकपेट अहमद बलाला और उनके हामीयों की कसीर तादाद मौजूद थी जो देखते ही देखते डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर कैंप में दाख़िल हो गए। इस वाक़िये के बाद डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर के घर रियासती वज़ीर-ए-दाख़िला पहूंच गए और इत्तेला पाकर कमिशनर पुलिस ने भी डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर महमूद अली के मकान पहूंच कर हालात का जायज़ा लिया।

मुक़ामी अवाम और दुसरे शहरीयों ने डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर के बेटे पर हमले पर ताज्जुब का इज़हार किया और कहा कि मुक़ामी जमात के क़ाइदीन-ओ-कारकुनों के शर से डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर के बेटा महफ़ूज़ नहीं हैं तो फिर आम आदमी की हालत क्या होगी।

अहमद बलाला और उनके हामीयों के इस हमले में आज़म अली ख़ुर्रम के अलावा उनके हामी भी ज़ख़मी हो गए। रियासती वज़ीर-ए-दाख़िला एन नरसिम्हा रेड्डी ने डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर महमूद अली से दो घंटे मुलाक़ात के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए आज़म अली ख़ुर्रम पर हमले की सख़्त मज़म्मत की और ख़ातियों के ख़िलाफ़ सख़्त से सख़्त कार्रवाई का यक़ीन दिलाया।

TOPPOPULARRECENT