Tuesday , December 12 2017

डीआइजी के बेटे की हत्या

पूर्णिया 20 मई : पूर्णिया रेंज के डीआइजी बच्चू सिंह मीणा के बेटे रक्षित सिंह मीणा की सनीचर देर रात गंगटोक के एक रेस्टोरेंट में हत्या कर दी गयी। रक्षित राजस्थान के जयपुर का रहनेवाला था। वह सिक्किम मणिपाल यूनिवर्सिटी के इंजीनियरिंग

पूर्णिया 20 मई : पूर्णिया रेंज के डीआइजी बच्चू सिंह मीणा के बेटे रक्षित सिंह मीणा की सनीचर देर रात गंगटोक के एक रेस्टोरेंट में हत्या कर दी गयी। रक्षित राजस्थान के जयपुर का रहनेवाला था। वह सिक्किम मणिपाल यूनिवर्सिटी के इंजीनियरिंग (दूसरे साल) का तालिब इल्म था। पुलिस ने इस मामले में सात लोगों को गिरफ्तार किया है।

गंगटोक के एसपी मनोज तिवारी ने बताया कि सिक्किम मणिपाल यूनिवर्सिटी के छह तालिब इल्म सनीचर की देर रात तिब्बत रोड वाक़ेय एक रेस्टोरेंट में नाच-गा रहे थे। इसी दौरान दूसरे ग्रुप के तालिब इल्म से उनका तनज़ा हो गया। दूसरे ग्रुप के तालिब इल्म रक्षित मीणा के ग्रुप की लड़कियों को छेड़ रहे थे। तनाज़े को खत्म करने के लिए रक्षित अपने ग्रुप के तालेबा-तलबों के साथ वहां से निकल गया। दूसरे ग्रुप के तालिब इल्म भी उनके पीछे बाहर निकले और कुछ दूर जाने पर रक्षित व उसके दोस्तों को पकड़कर पीटने लगे।
इस वाकिया में रक्षित व उसका दोस्त अरिंदम परमान शदीद जख्मी हो गया।

इसके बाद दोनों गंगटोक वाक़ेय एक होटल चले गये। धीरे-धीरे रक्षित की हालत बिगड़ने लगी। उसके साथियों ने उसे फ़ौरन मणिपाल अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डोक्टरों ने उसे मुर्दा करार दे दिया। बाद में अस्पताल इंतेजामिया ने पुलिस को इसकी इत्तेला दी।

मोबाइल से बना रहा था वीडियो

एसपी तिवारी ने बताया कि रेंस्टोरेंट में नाचगान के दौरान रक्षित का दोस्त मोबाइल से वीडियो बना रहा था। इसी के बुन्याद पर पुलिस ने सबसे पहले ग्युरमी नामी एक नौजवान को गिरफ्तार किया। पूछताछ में उसने अपने दीगर साथियों का नाम कबूल दिया। जिसके बाद सभी मुलजिमों को गिरफ्तार कर लिया गया। रक्षित जिस कॉलेज में पढ़ता था, उसका कैंपस मशरिकी सिक्किम के माजीतर, रांग्पो में है।

हत्या करने वाले बड़े घरों के बेटे

गिरफ्तार नौज़वानों में ग्यूरमी वांग्चुक सिक्किम के शहर तरक्की महकमा के सेक्रेटरी तोपज्योर भूटिया का बेटा भी है। इसके अलावा विधान प्रधान, उग्येन नामग्याल, सोनम नामग्याल (साबिक ताऊ अनाई सेक्रेटरी का बेटा), लोडेन वांगडि शेरपा, पूरबा तमांग, कारना हांग सुब्बा को भी गिरफ्तार किया गया है। गंगटोक सदर पुलिस ने कांड तादाद 107 (05)/2010 के तहत मामला दर्ज किया है। मुलजिमों के खिलाफ भादवि की दफा 302, 201 और 34 लगाया गया है।

पूर्णिया के डीआइजी बच्चू सिंह मीणा रविवार की दोपहर गंगटोक पहुंच गये। पोस्टमार्टम के बाद लाश को लेकर घरवाले राजस्थान रवाना हो गये। मीणा पटना में एसएसपी रह चुके हैं।

TOPPOPULARRECENT