Saturday , January 20 2018

डी एस सीज़ के अहल उम्मीदवारों के साथ नाइंसाफ़ी के अज़ाला के इक़दामात

हुकूमत तेलंगाना स्कूल एजूकेशन के तहत साल 1998 ता 2012 तक मुनाक़िदा डी एस सीज़ के अहल ऐसे उम्मीदवार जिनके साथ नाइंसाफ़ी होने की वजह से आज तक भी मुलाज़मतों से महरूम हैं, ऐसे मुतास्सिरा उम्मीदवारों के साथ मुकम्मल इन्साफ़ के लिए मोअस्सर इक़दामात के लिए संजीदगी से ग़ौर कर रही है।

बावसूक़ सरकारी ज़राए के मुताबिक़ साल 1998 से अब तक असातिज़ा के तक़र्रुरात अमल में लाने के लिए मुनाक़िदा डी एस सीज़ के ज़रीए रियासत तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले जुमला 6900 उम्मीदवारों के साथ मुकम्मल नाइंसाफ़ी के नतीजा में मुलाज़मतें हासिल नहीं हो सकें।

इसी ज़राए के मुताबिक़ साबिक़ा हुकूमतों की लापरवाही और जानिबदारी के साथ उस वक़्त के ओहदेदारों की कोताहियों और ग़फ़लत के नतीजा में डी एस सी तहरीरी टेस्ट में मेरिट आने वाले उम्मीदवार भी टीचर की नौकरी से महरूम हो गए जिसके बाइस आज तक ये उम्मीदवार नाइंसाफ़ीयों के ख़िलाफ़ जद्दो जहद जारी रखे हुए हैं।

TOPPOPULARRECENT