Saturday , December 16 2017

डी चन्द्र शेखर रेड्डी कांग्रेस से मुस्ताफ़ी

काकीनाडा 14 जनवरी : काकीनाडा के कांग्रेसी रुकन असेंबली दवारम बोडी चन्द्र शेखर रेड्डी ने आज कांग्रेस से इस्तीफ़ा देदिया । वाई एस आर कांग्रेस पार्टी में शमूलीयत के लिए वो पहले ही अपने इरादे ज़ाहिर करचुके हैं ।

काकीनाडा 14 जनवरी : काकीनाडा के कांग्रेसी रुकन असेंबली दवारम बोडी चन्द्र शेखर रेड्डी ने आज कांग्रेस से इस्तीफ़ा देदिया । वाई एस आर कांग्रेस पार्टी में शमूलीयत के लिए वो पहले ही अपने इरादे ज़ाहिर करचुके हैं ।

उन्हों ने कहा कि साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर आँजहानी वाई एस राज शेखर रेड्डी के ख़ानदान को हिरासाँ किए जाने के ख़िलाफ़ वो बतौर-ए-एहतजाज कांग्रेस से मुस्ताफ़ी होरहे हैं ।

डी चन्द्र शेखर रेड्डी ने इल्ज़ाम आइद किया कि वाई एस आर की फ़लाही सकीमात को रोबामल लाने में रियास्ती हुकूमत नाकाम होगई है । उन्हों ने कहा कि तेलुगु देशम पार्टी के सदर एन चंद्राबाबू नायडू अगर अपनी पद यात्रा तर्क करते हुए हुकूमत के ख़िलाफ़ तहरीक अदमे एतेमाद पेश करते हैं तो वो इस तहरीक की ताईद करेंगे ।

उन्हों ने दावे किया कि काकीनाडा के कई साबिक़ कारपोरीटरस और कौंसिलरस भी कांग्रेस से मुस्ताफ़ी होकर वाई एस आर कांग्रेस में शामिल होगए हैं यहां ये बात भी काबुल-ए-ज़िकर है कि दवारम पौडी चन्द्र शेखर रेड्डी इब्तेदा-ए-से साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर आँजहानी वाई एस राज शेखर रेड्डी से बहुत क़रीब थे जिन्हें वाई एस आर ने ना सिर्फ़ असेंबली का टिकट दिया था बल्के उन की कामयाबी को भी यक़ीनी बनाया था ।

वो अब भी वाई एस जगन मोहन रेड्डी से बहुत क़रीब हैं । तेलुगु देशम पार्टी की तरफ से रियास्ती हुकूमत की तरफ़ से तहरीक अदमे एतेमाद के मौके पर वाई एस आर कांग्रेस के दीगर अरकान असेंबली के साथ हुकूमत के ख़िलाफ़ वोट दिए जाने की तवक़्क़ो की जा रही थी लेकिन लम्हा आख़िर में उन्हों ने अपना फ़ैसला बदलते हुए कांग्रेस के हक़ में वोट दियाथा लेकिन ये कहा जा रहा है कि कांग्रेस में अब वो मशकूक-ओ-मुश्तबा होगए हैं जिन्हें दुबारा टिकट मिलने की तवक़्क़ो नहीं है चुनांचे वो कांग्रेस से मुस्ताफ़ी होकर वाई एस आर कांग्रेस पार्टी में शमूलीयत के ज़रीया आइन्दा चुनाव में टिकट के हुसूल को यक़ीनी बनाने की कोशिश कररहे हैं ।

TOPPOPULARRECENT