Monday , December 18 2017

डी श्रीनिवास कांग्रेस से मुस्ताफ़ी

हैदराबाद 03 जुलाई कांग्रेस के सीनीयर लीडर-ओ-साबिक़ सदर प्रदेश कमेटी डी श्रीनिवास पार्टी से देरीना वाबस्तगी को ख़त्म करते हुए आज मुस्ताफ़ी होगए और टी आर एस में शामिल होने का एलान किया।

हैदराबाद 03 जुलाई कांग्रेस के सीनीयर लीडर-ओ-साबिक़ सदर प्रदेश कमेटी डी श्रीनिवास पार्टी से देरीना वाबस्तगी को ख़त्म करते हुए आज मुस्ताफ़ी होगए और टी आर एस में शामिल होने का एलान किया।

उन्होंने एक प्रेस कांफ्रेंस से ख़िताब करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी में उन्हें ओहदों के साथ साथ तौहीन आमेज़ सुलूक भी बर्दाश्त करना पड़ा। अफ़सोस की बात हैके वो चार दहों तक कांग्रेस से वाबस्ता रहने के बाद मुस्ताफ़ी हो रहे हैं।

उन्होंने 1969 में पहली मर्तबा गांधी भवन में क़दम रखा था। इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और सोनीया गांधी की क़ियादत में उन्होंने काम किया और सोनीया गांधी ने उनकी काफ़ी हौसलाअफ़्ज़ाई की लेकिन कांग्रेस का निज़ाम अब तबदील हो गया है और कांग्रेस में सीनीयर क़ाइदीन की एहमीयत घट गई है। उन्हों ने कहा कि वो ज़मीर की आवाज़ पर और इज़्ज़त नफ़स की ख़ातिर कांग्रेस से मुस्ताफ़ी हो रहे हैं, क्युंकि एम एलसी की नशिस्त उनके लिए कोई मानी नहीं रखती।

TOPPOPULARRECENT