Monday , December 18 2017

डेपोटेशन के नाम पर सेक्रीटेट में ओहदा दारों कि भरती

* चीफ़ सेक्रेटरी से तेलंगाना जवाइंट एक्शण कमेटी का एहतिजाज

* चीफ़ सेक्रेटरी से तेलंगाना जवाइंट एक्शण कमेटी का एहतिजाज
हैदराबाद (सियासत न्यूज़ )रियास्ती सेक्रेटेट तेलंगाना जवाइंट एक्शण कमेटी ने मुख़्तलिफ़ जुमरों के मुलाज़मीन ओरओहदेदारों की डेपोटेशन के नाम पर रियास्ती सेक्रेटेट में दाख़िल होने की कोशिशों ओर राजय सरकार के नरम रवैय्या अपनाने की इजाज़त देने की पुर ज़ोर मुख़ालिफ़त की और इस सिलसिले में शदीद एहतिजाज करते हुए अब तक दीए गए तमाम डेपोटेशन जिन में आई आर टी एस, आई ई एस ,आई ए एड ए एस ,आई एफ़ एस ओहदेदारों के डेपोटेशन को रद‌ कर के उन के असल मह्कमाजात(विभागों) को रवाना करदेने का राज्य सरकार से पुर ज़ोर मुतालिबा किया ।वर्ना बड़े पैमाने पर हड्ताल‌ करने कि चेतावनी दि ।

नरेंद्र राव सदर नशीन और सुरेश कुमार सेक्रेटरी जनरल रियास्ती सेक्रेटेट तेलंगाना जवाइंट एक्शण कमेटी ने सियासत न्यूज़ से बातचीत करते हुए ये बात कही और बताया कि इस सिलसिले में मुकम्मल तफ़सीलात से रियास्ती चीफ़ सेक्रेटरी मिस्टर पंकज दीवेदी को भी वाक़िफ़ करवाया गया है और उन्हों ने इस मसले पर संजीदगी से ग़ौर करने का यकिन भि दिया है ।

इन क़ाइदीन ने बताया कि सब से पहले दो साल मुद्दत से जयादा समय‌ से डेपोटेशन पर ख़िदमात अंजाम देने वाले ओहदेदारों‍ ओर‌-मुलाजिमों को उन के असल महकमा को रवाना कर देते ।

सेक्रेटेट में पाए जाने वाले महिकमा माहौलियात ओर जंगलात के सिवा कोई और महकमा में ख़िदमात अंजाम देने वाले आई एफ़ एस ओहदेदारों को तुरंत‌ पर महकमा माहौलियात‍ ओर जंगलात को रवाना कर देने रियास्ती हुकूमत अगर मर्कज़ी ख़िदमात से ताल्लुक़ रखने वाले ओहदेदारों की ख़िदमात को ज़रूरी समझती है तो सब से पहले ख़िदमात हासिल किए जाने वाले ओहदेदारों को सेक्रेटेट के क़वानीन‍ ओर ज़वाबत से वाक़िफ़ करवाने के लिए मुनासिब ट्रेनिंग देने के इलावा अगर किसी की ख़िदमात रियास्ती हुकूमत हासिल करना चाहती है तो सब से पहले रियास्ती सेक्रेटेट तेलंगाना जवाइंट एक्शण कमीशन के साथ बातचीत कर के डेपोटेशन के सिलसिले में एक वाज़िह पालिसी मुरत्तिब कर के इस का एलान करने का रियास्ती हुकूमत से पुर ज़ोर मुतालिबा किया ।

इन क़ाइदीन ने बताया कि मह्कमाजात बलदी नज़म नसक़ ,रीवैन्यू ,ट्रांसपोर्ट ,क़ानूनी तालीम‍ ओर आला तालीम ,आबपाशी मह्कमाजात मे ज़ाइद अज़ 16 ओहदेदार सेक्रेटेट में डेपोटेशन पर ख़िदमात अंजाम दे रहे हैं और उन में लगभग‌ ओहदेदारों के डेपोटेशन की मुद्दत 8 साल होचुकी है इन क़ाइदीन ने बताया कि रेलवे ट्रैफ़िक से ताल्लुक़ रखने वाले ओहदेदार सेक्रेटेट में शहरी‍ ओर‌-बलदी नज़म‍ ओ‍र‌नसक़ रीवैन्यू मह्कमाजात में ख़िदमात अंजाम देते हुए किस तरह फ़ैसले कर रहे हैं नाक़ाबिल समझ है ।

लिहाज़ा तुरंत‌ डेपोटेशन पर सेक्रेटेट में ख़िदमात अंजाम देने वाले ओहदेदारों‍ ओर‌-मुलाज़मीन के डेपोटेशन को रद‌ कर के दीगर बेहतरीन नज़म‍ ओर‌-नसक़ का तजुर्बा रखने वाले ओहदेदारों को तय करने का् रियासती हुकूमत से पुर ज़ोर मुतालिबा किया ।

TOPPOPULARRECENT