डेविड कैमरोन शदीद (तेज) बुख़ार में मुबतला

डेविड कैमरोन शदीद (तेज) बुख़ार में मुबतला

बर्तानिया भर के बेशतर अफ़राद ने मौसिम-ए-बहार में गर्मी की लहर का ख़ौरमक़दम (स्वागत) किया है, ताहम (फिर भी) डेविड कैमरोन का कहना है कि वो इस वजह से शदीद(तेज) बुख़ार में मुबतला हो गए हैं। वज़ीर-ए-आज़म (प्रधान मंत्री) को टी वी पर पेश होने स

बर्तानिया भर के बेशतर अफ़राद ने मौसिम-ए-बहार में गर्मी की लहर का ख़ौरमक़दम (स्वागत) किया है, ताहम (फिर भी) डेविड कैमरोन का कहना है कि वो इस वजह से शदीद(तेज) बुख़ार में मुबतला हो गए हैं। वज़ीर-ए-आज़म (प्रधान मंत्री) को टी वी पर पेश होने से क़ब्ल मर्ज़ से नजात के लिए अदवियात (दवाईयां) दी गई थीं।

इन का कहना था कि बज़ाहिर एक या दो पौधे ऐसे हैं जिन पर खिलने वाले फूलों ने उन्हें मुतास्सिर (प्रभावित) किया। उन्हों ने बताया कि सुबह में बेदार हुआ तो इस बुख़ार में मुबतला था। वाज़िह रहे कि ये बुख़ार एक किस्म के फूलों में मौजूद ज़र-ए-गुल से एलर्जी के बाइस(वजह से) होता है। हर पाँच में से एक शख़्स अपनी ज़िंदगी में एक बार इस से मुतास्सिर (प्रभावित) होता है।

Top Stories