Tuesday , December 12 2017

डॉक्टरों की पेंटिंग को मिली गिनीज बुक में जगह

भारतीय डॉक्टरों के एक समूह ने डॉक्टरों के खिलाफ लगातार होने वाले हमलों को खत्म करने के प्रतीकात्मक प्रतिनिधित्व के रूप में एक फिंगरप्रिंट पेंटिंग बनायीं है जिसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स दुनिया की सबसे बड़ी कलाकृति के रूप मे जगह मिली है।

“रे ऑफ होप” शीर्षक की यह पेंटिंग देश के विभिन्न हिस्सों से 15 लाख उंगलियों के निशानों से बनायीं गयी है जिन्हें चार महीने की अवधि में एकत्र किया गया था।

रिकॉर्ड शीर्षक भारतीय चिकित्सा संघ और केनुर मेडिकल कॉलेज, केरल के बाल चिकित्सा के सहायक प्रोफेसर ‘डॉ नवीन कोवल’ के नाम पर है जिन्होंने काम की अवधारणा करी।

गिनीज सर्टिफिकेट के अनुसार यह “सबसे बड़ी फिंगरप्रिंट पेंटिंग है जिसका नाप 469.75 मीटर (5,054 फीट) है और 30 सितंबर 2016 को केरल, भारत में आयोजित भारतीय चिकित्सा संघ द्वारा एक आयोजन में बनाया गया था।”

नवीन के अनुसार, “यह सिर्फ एक पेंटिंग नहीं है। यह डॉक्टरों के विरूद्ध हिंसा को खत्म करने के लिए हमारी लड़ाई का एक प्रतीकात्मक प्रतिनिधित्व है।”

“यह भारतीय मेडिकल एसोसिएशन, केरल के समर्थन और पूरे देश में हजारों डॉक्टरों की भागीदारी के साथ बनाया गया था।”

“अधिकांश काम कन्नूर मेडिकल कॉलेज के छात्रों द्वारा किया गया था, जहां यह पहली बार प्रदर्शित किया गया था, “नवीन ने कहा।

उन्होंने कहा कि 75 प्रतिशत से अधिक डॉक्टरों को काम पर किसी न किसी तरह की हिंसा का सामना करना पड़ता है।

TOPPOPULARRECENT