डोनर सिंह जीतेन्द्र सिंह शंटी होंगे विश्व रिकॉर्ड से सम्मानित

डोनर सिंह जीतेन्द्र सिंह शंटी होंगे विश्व रिकॉर्ड से सम्मानित

प्रमुख समाज सेवी, एन जी ओ शहीद भगत सिंह सेवा दल (एस बी एस फाउंडेशन) के संस्थापक और दिल्ली के शाहदरा से पूर्व विधायक, जितेंद्र सिंह शंटी ने 100 बार स्वैछिक रक्तदान कर, ऐसा करने वाला, विश्व का पहला सिख और पहला राजनेता बन एक विश्व रिकॉर्ड बनाया है और जिसके उपलक्ष में उनका नाम ‘वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकार्ड्स, लंदन, यूनाइटेड किंगडम’, में दर्ज होने जा रहा है।

‘वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकार्ड्स के प्रतिनिधि एवं शंटी ने इस खबर की औपचारिक घोषणा आज होटल ली-मेरिडियन, नई दिल्ली में मीडिया को सम्बोधित करते हुए की। यह बड़ी घोषणा मौके पर मौजूद इवेंट के निम्नलिखित माननिये मुख्य अतिथिगण की हाज़री में की गयी।

सरदार सुखबीर सिंह बदल (अध्यक्ष, शिरोमणि अकाली दाल एवं लोकसभा सांसद ), श्री मनोज तिवारी (अध्यक्ष, भाजपा दिल्ली प्रदेश एवं लोकसभा सांसद), श्री श्याम जाजू (राष्ट्रिय उपाध्यक्ष, भाजपा), श्री शाहनवाज़ हुसैन (प्रवक्ता, भाजपा एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री, भारत सरकार), श्री विजय गोयल (राज्यसभा सांसद), सरदार बलविंदर सिंह भुंदर (राज्यसभा सांसद), एवं सरदार तरलोचन सिंह (पूर्व चेयरमैन, माइनॉरिटी कमिशन ऑफ़ इंडिया )।

साथ में निम्नलिखित अतिथि विशिष्टगण भी मौजूद रहे। श्री विजय गोयल (नेता प्रतिपक्ष, दिल्ली विधानसभा), सरदार मनजिंदर सिंह सिरसा (अध्यक्ष दिल्ली गुरुद्वारा प्रभन्दक कमेटी एवं विधायक) एवं सरदार हरमीत सिंह कालका (जनरल सेक्रेटरी, दिल्ली गुरुद्वारा प्रभन्दक कमेटी एवं पूर्व विधायक)। सभी माननीय अतिथिगणों ने जितेंद्र सिंह शंटी का स्वागत कर उनकी मानवता की सेवा का हौसला बढ़ाया और आगे भी इसही प्रकार से समाज सेवा करते रहने के लिए प्रोत्साहन दिया।

वहीँ जितेंन्द्र सिंह शंटी को आज ‘वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकार्ड्स, लंदन, यूनाइटेड किंगडम’ की तरफ से उनका विश्व रिकॉर्ड जांचने के उपरांत पुष्टीकरण पत्र एवं अनंतिम पत्र भेंट किया गया जिसे ‘वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकार्ड्स’ के प्रतिनिधि तिथि भल्ला एवं रविकांत शर्मा जी ने अपने हाथों भेंट किया। साथ ही में शंटी ने ‘वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकार्ड्स, लंदन, यूनाइटेड किंगडम’ से हुए अपने औपचारिक संचार के हवाले से यह बताया की उन्हें जल्द ही वर्ल्ड रिकॉर्ड का सर्टिफिकेट भी प्रदान कर दिया जायेगा। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस अतः इवेंट की अध्यक्षता सिंह से दल के अध्यक्ष श्री हनुमान लखोटिया एवं संस्था की वूमेन विंग अध्यक्षा श्रीमती मंजीत कौर शंटी ने की।

इस साल जून में ही जितेंद्र सिंह शंटी को नेशनल ब्लड ट्रांसफुसन कौंसिल, भारत सरकार एवं दिल्ली स्टेट ब्लड ट्रांसफुसन कौंसिल, दिल्ली सरकार द्वारा को सेंचूरियन अवार्ड एवं डोनर सिंह के ख़िताब से नवाज़ा जा चुका है। शंटी ने इस साल 18 जून को सांसद एवं पूर्व क्रिकेटर श्री गौतम गंभीर जी की हाज़री में अपने रक्तदान का शतक लगाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया था।

शंटी के इस मानवता के कार्य को देखते हुए उन्हें सम्मानित करने वालों की झड़ी लग गयी। शंटी को कईं दिग्गज लोगों ने बुलाकर सम्मानित किया जिसमे केंद्रीय मंत्री, सांसद, गायक आदि जैसे माननीय लोग शामिल थे , जैसे की , ,श्री धर्मेंद्र प्रधान, श्री राम विलास पासवान ,बीबा हरसिमरत कौर बादल, श्री महेश शर्मा , श्री प्रवेश साहिब सिंह , श्री हंस राज हंस , श्री लाल कृष्ण अडवाणी जी , श्री अनुराग ठाकुर , श्री जय प्रकाश नड्डा , श्री सोम प्रकाश , श्री विजय कुमार मल्होत्रा , दलेर मेहँदी , अशोक मस्ती और अन्य प्रमुख लोग जिसमे आज इवेंट पर आये हुए सभी विशिष्ठ अतिथि एवं अतिथि विशिष्ठ गन भी शामिल थे।

यहाँ तक की तक़रीबन यह सभी माननीय लोग अपने सोशल मीडिया पर भी शंटी को बधाई दे चुके हैं और हैशटैग डोनर सिंह का प्रयोग कर शंटी को सोशल मीडिया पर बधाई देते रहे हैं। डोनर सिंह, एक ऐसा ख़िताब जोकि शंटी ने 37 + वर्षों की कड़ी मेहनत और रक्तदान के प्रति उनके जज़्बे के चलते उन्होंने हासिल किया है।

जितेंद्र सिंह शंटी कहा कि, “रक्तदाता जीवन दाता होता है और उस से बढ़कर सिर्फ विधाता होता है। रक्तदाता ईश्वर की तरह है जिसके खून से ज़रूरतमंद लोगों की जान बचती है।मैं 100 बार रक्तदान करके अपने आपको सौभाग्यशाली समझता हूँ की मुझे इस जीवन में इंसानियत के लिए कुछ अच्छा करने की मिला। मुझे लगता है की डोनर सिंह की उपाधी मेरे लिए एक टैग से ज़्यादा ज़िम्मेदारी है। मैं ‘वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकार्ड्स, यूनाइटेड किंगडम’ का तहे दिल से आभार व्यक्त करता हूँ जिन्होंने ने मेरी समाज सेवा को उपलब्धि समझते हुए मुझे विश्व रिकॉर्ड धारक बनने का न्योता भेजा। साथ ही में मैं नेशनल ब्लड ट्रांसफुसन कौंसिल, भारत सरकार एवं दिल्ली स्टेट ब्लड ट्रांसफुसन कौंसिल, दिल्ली सरकार का धन्यवाद करता हूँ जिन्होंने मुझे ‘सेंचूरियन अवार्ड’ देकर मेरा हौसला बढ़ाया। साथ ही मैं सभी को यह भी बताना चाहूँगा की हमारी एन जी ओ ने अभी तक 146 स्वैछिक रक्तदान शिविर लगाएं हैं जिसमे तक़रीबन 33 ,000 यूनिट रक्त एकत्रित कर ज़रूरतमंदों की मदद की गयी और अभी भी ज़ारी है और रहेगी। सरकार और समाज से ऐसे अवार्ड और प्रोत्साहन मिलना एक प्रोत्साहन का काम करता है। मैं भगवान् से यही प्राथना करता हूँ की ईश्वर मुझे ऐसे ही समाज सेवा करते रहने का बल बक्शे और मैं होनी आखरी सांस तक मानव सेवा में विलीन रहूं। मैं तहे दिल से आज यहाँ आये सभी विशिष्ठ अतिथिगण एवं अतिथि विशिष्टगण का हार्दिक धन्यवाद करता हूँ। साथ ही मैं अपने सभी चाहने वालों का और पत्रकार साथियों का धन्यवाद करता हूँ जिन्हीने ने भारी मात्रा में आकर मेरा हौसला बढ़ाया। मैं आदरणीय सरदार सुखबीर सिंह बादल जी का ख़ास तौर पर धन्यवाद करता हूँ जोकि बहुत ही शार्ट नोटिस पर यहाँ मुझे अपना आशीर्वाद देने आये।“

शहीद भगत सिंह सेवा दल (एस बी एस फाउंडेशन) एक सामाजिक सेवा संगठन है जोकि पिछले 26 वर्षों से निष्काम मानवता की सेवा हेतु तत्पर है। इस संस्था की निःशुल्क सेवाओं में कुछ ऐसी मूलभूत सेवाएं शामिल हैं जिनकी इस समाज अथवा देश को बेहद आवयशकता है। अर्थात: गरीबों या ज़रूरतमंदों का दाह संस्कार करवाना , 24 घंटे शव वाहन एवं एम्बुलेंस सेवा प्रदान करना , शव पेटिका की सेवा प्रदान करना, रक्त दान करना , निःशक्तजन लोगों को तिपहिया साइकिल दान करना , बुज़ुर्ग नागरिकों के लिए मनोरंजन केंद्र का आयोजन करना एच आई वी की जागरूकता फैलाना , युवा के लिए स्पोर्ट्स क्लब का आयोजन करना एवं आपदा प्रबंधन सेवाओं का प्रदान करना , इस संस्था की बहुत सारी निशुल्क सेवाओं में से कुछ बेहद ज़रूरी निःशुल्क सेवाएँ समाज एवं देश को समर्पित हैं।

दिल्ली में तोह तक़रीबन सभी आपदाओं के समय चाहे वह कोई प्राकृतिक आपदा हो या चाहे वह आंतकवादी हमले हों , शहीद भगत सिंह सेवा दल हमेशा देश सेवा में तत्पर रहा है। यहाँ तक की इंसानियत की राह पर चलते हुए इस संस्था ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी सेवाएं प्रदान की हैं। हाल ही में नेपाल में आये विनाशकारी भूकंप में भी इस संस्था ने अपने स्वयंसेवकों को मानवता की सेवा के लिए वहां बचाव एवं राहत कार्य के लिए भेजा था। आज तक इस संस्था ने तक़रीबन 42000 शवों को निःशुल्क शव वाहन सेवा प्रदान की है वहीँ तक़रीबन 45000 मरीज़ों को संस्था की निःशुल्क एम्बुलेंस सेवा का लाभ मिला है।

Top Stories