Thursday , June 21 2018

डोनाल्ड ट्रंप की जीत के खिलाफ अमेरिका में भारी विरोध प्रदर्शन, रोड पर तोड़ फोड़ और आगजनी

बुधवार सुबह संयुक्त राज्य अमेरिका के 45 वें राष्ट्रपति के तौर पर डोनाल्ड ट्रम्प की घोषणा के बाद सैंकड़ों प्रदर्शनकारियों ने ज़बरदस्त विरोध प्रदर्शन किया |

सैंकड़ों प्रदर्शनकारियों ने ट्रम्प हमारा राष्ट्रपति नहीं है के नारे लगाते हुए सड़कें जाम कर दीं | प्रदर्शनकारियों ने विरोध प्रदर्शन के दौरान ओकलैंड और बर्कले में अख़बार ,टायर में आग लगाने के साथ ट्रम्प के पुतले भी जलाये ओकलैंड ट्रिब्यून न्यूज़ रूम की खिड़कियां तोड़ डाली  | विरोध प्रदर्शन को देखते हुए अधिकारी  12 स्ट्रीट ओकलैंड सिटी सेंटर स्टेशन बंद करने पर मजबूर हो गये |

प्रदर्शनकारियों ने सड़क पर अपने हथियारों के साथ रैली निकालते हुए कहा कि हमारे समुदाय पर हमले किये जा रहे हैं ,हम क्या करें ? लड़ाई के लिए तैयार हो जाओ |पुलिस अधिकारियों द्वारा ओकलैंड और ब्रॉडवे में 8 स्ट्रीट पर प्रदर्शनकारियों को रोक दिया था | लेकिन प्रदर्शनकारी चिल्ला रहे थे हमें जाने दिया जाए | एक प्रदर्शनकारी ने बोर्ड लिया हुआ था जिस पर लिखा था ‘ट्रम्प फ़ासीवादी पिग है’ | प्रदर्शन के दौरान किसी को भी गिरफ़्तार नहीं किया गया |

बर्कले सिटी कॉलेज आर्ट के मेजर देवं तेवनबेनटी ने कहा कि मैं गुस्सा हूँ , मैं ये स्वीकार करना बहुत मुश्किल है कि ट्रम्प हमारे देश का प्रतिनिधित्व करेंगे | वह बेहतर तरीके से देश का प्रतिनिधित्व नहीं कर सकते हैं |

कैलिफोर्निया राजमार्ग  पर गश्त कर रही पुलिस ने बताया कि विरोध प्रदर्शन के दौरान टेलीग्राफ एवेन्यू राजमार्ग 24 पर एक कार से टक्कर लग जाने पर एक महिला की मौत हो गयी | जिसके बाद प्रदर्शनकारियों ने कार को घेरकर उसमें तोड़फोड़ शुरू कर दी | पुलिस अधिकारियों के सहयोग से ड्राइवर को बचाया जा सका |

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के छात्र बड़ी संख्या में राष्ट्रपति चुनाव परिणाम देखने के लिए इकट्ठा हुए थे | डेली कैलिफोर्निया संवाददाता ने मालिनी रमियेर ने बताया था कि कुछ लोग चिल्ला रहे थे कि ट्रम्प ने हमसे चुनाव छीनकर कर हम तर्कसंगत लोगों को अल्पसंख्यक कर दिया है | ऑकलैंड शहर में 200 से भी ज़्यादा लोगों ने प्रदर्शन किया | डेली कैलिफोर्निया रिपोर्टर एंडरसन लेन्हम ने ट्वीट किया किसकी सडकें? हमारी सड़कें ?
लेन्हम ने ईस्ट बे सिटी में विरोध प्रदर्शन की अगुवाई का श्रेय इल्सा कैरिलो को दिया | लेन्हम के ट्वीटर के मुताबिक़ कैरिलो ने कहा कि हम अश्वेत छात्र खामोश नहीं रहेंगे , हाशिए पर नहीं रहेंगे |

ट्वीटर पर #Berkvote ट्रेडिंग के साथ कहा जा रहा है कि एक राष्ट्र के रूप में ..हमें संगठित होने की आवश्यकता है |हम ट्रम्प को राष्ट्रपति के तौर पर नहीं देख सकते हैं, यह भयावह है |छात्रों ने #Berkprotest और #notmypresident हैशटैग भी इस्तेमाल किया |

सैन जोस स्टेट यूनिवर्सिटी में छात्रों ने विरोध प्रदर्शन कर नाराजगी जताई। सैकड़ों प्रदर्शनकारी टॉवर लॉन के पास इकट्ठा हुए | छात्रों ने एक स्वर में कहा कि सुधार कि शुरुआत के लिए हमारे साथ आईये | कुछ अन्य छात्रों ने कहा कि हमने हिलेरी को वोट दिया लेकिन हमारी आवाज़ नहीं सुनी गयी |सैन फ्रांसिस्को स्टेट यूनिवर्सिटी के छात्रों ने विरोध प्रदर्शन के दौरान कहा कि लोगों को बांटा जा रहा है लेकिन लोग नहीं बटेंगे |

 

TOPPOPULARRECENT