डोनाल्ड ट्रम्प की सऊदी यात्रा : इस्लामी जगत के साथ चाहते हैं मजबूत सम्बन्ध

डोनाल्ड ट्रम्प की सऊदी यात्रा : इस्लामी जगत के साथ चाहते हैं मजबूत सम्बन्ध
Click for full image

वाशिंगटन। डोनाल्ड ट्रंप के एक शीर्ष मुस्लिम समर्थक ने कहा है कि अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में अपनी पहली विदेश यात्रा के रूप में सऊदी अरब जाने का फैसला करना ट्रंप की इस प्रबल इच्छा को दर्शाता है कि वह इस्लामी जगत के साथ मजबूत संबंध कायम करना चाहते हैं। वह आतंकवादियों को हराने के लिए मुसलमान नेताओं के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं।

 

 

 

 

ट्रंप के एक पाकिस्तानी अमेरिकी समर्थक साजिद तरार ने कहा कि सऊदी अरब की यात्रा करने का ट्रंप का निर्णय यह दर्शाता है कि वह इस्लाम के खिलाफ नहीं, बल्कि आतंकवादियों के खिलाफ हैं। ‘मुस्लिम अमेरिकन्स फॉर ट्रंप’ के संस्थापक तरार ने कहा कि वह सऊदी अरब से अपनी पहली यात्रा की शुरूआत कर रहे हैं।

 

 

 

 

 

यह बड़ी बात है। यह उनकी मुस्लिम जगत के साथ संबंध सुधाने की इच्छा को दर्शाता है। तरार उन कुछ चयनित धार्मिक नेताओं में शामिल थे जिन्हें रोज गार्डन में राष्ट्रपति के ‘नेशनल प्रेयर डे’ संबोधन के लिए गुरूवार को व्हाइट हाउस ने आमंत्रित किया था जहां ट्रंप ने इस बात की घोषणा की थी कि अपनी पहली विदेश यात्रा की शुरूआत सऊदी अरब से करेंगे।

 

 

 

 

 

 

तरार ने कहा कि यह बहुत सकारात्मक संकेत है कि वह सऊदी अरब से शुरूआत करेंगे और उसके बाद इस्राइल जाएंगे। यह आईएसआईएस से लडऩे, पश्चिम एशिया में बदलाव लाने की उनकी इच्छा और प्रतिबद्धता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि ट्रंप ने अपनी मुहिम में बार बार कहा था कि वह यह जानना चाहते हैं कि नफरत कहां से आ रही है।

Top Stories