ढाई घंटे में 300 फैसले, पटना हाईकोर्ट ने रचा इतिहास

ढाई घंटे में 300 फैसले, पटना हाईकोर्ट ने रचा इतिहास
Click for full image

नई दिल्ली: अदालत में पड़े केस की सुनवाई में अमूमन कई साल लग जाते हैं| ऐसा भी होता है किसी बेगुनाह के निर्दोष होने का फैसला आने तक वह कई साल की सज़ा काट चुका होता है| लेकिन 63,070 केस में पटना अदालत ने लगभग 62,061 मामले की सुनवाई करते हुए फैसला सुना दिया है|

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बताया जाता है की मुख्य न्यायधीश राजेंद्र मेनन की नियुक्ति के बाद ऐसा हुआ है| उनकी नियुक्ति 15 मार्च 2017 को हुई थी जिसके बाद कहा जाता है की उन्होंने के भी छुट्टी नहीं ली| उन्होंने अपने कार्यभार के सँभालने से लेकर 30 अक्टूबर तक पंजीकृत मामले में लगभग सबकी सुनवाई हो चुकी है|

पटना हाईकोर्ट में आज रिकार्ड 1489 मुकदमे निपटा दिये। न्यायाधीश रविरंजन की एकल पीठ में आज 300 जमानत संबंधी केस सूचीबद्ध किए गए। इसमें से 289 केस को अंतिम रूप से निपटा दिया गया| सबसे खास बात कि सारे मामलों का निष्पादन महज ढाई घंटे में हो गया।

Top Stories