Sunday , January 21 2018

तबक़ा वारीयत और नाइंसाफी ने रोहित की जान ले ली:राहुल गांधी

हैदराबाद 20 जनवरी: कांग्रेस के नायब सदर राहुल गांधी ने तालिबे इल्म रोहित की ख़ुदकुशी के लिए मर्कज़ी वज़ीर बंडारू दत्तात्रेय , वाइस चांसलर यूनीवर्सिटी और मर्कज़ी हुकूमत को ज़िम्मेदार क़रार देते हुए इस वाक़िये के तमाम ज़िम्मेदारों को सख़्त से सख़्त सज़ा देने, तलबा के हुक़ूक़ के तहफ़्फ़ुज़ के लिए नया क़ानून बनाने और मुतास्सिरीन के अरकाने ख़ानदान को ऐक्स गरीशया के अलावा सरकारी मुलाज़मत फ़राहम करने का मुतालिबा किया।

राहुल गांधी ने अचानक सेंट्रल यूनीवर्सिटी पहुंच कर रोहित के वालिदैन, मुअत्तल किए गए तलबा और एहतेजाजी तलबा से मुलाक़ात की और रोहित की ख़ुदकुशी के बारे में मालूमात हासिल कीं। उन्होंने मुअत्तल तलबा से ज़मीन पर बैठ कर बातचीत की और बादअज़ां तलबा से ख़िताब करते हुए कहा कि यूनीवर्सिटी तालीम के हुसूल का मुक़द्दस मुक़ाम है, लिहाज़ा यूनीवर्सिटी में ज़ात पात, तबक़ा, मज़हब की कोई गुंजाइश नहीं है, मगर हैदराबाद सेंट्रल यूनीवर्सिटी में नाइंसाफी बरती जा रही है, जिसकी वजह से रोहित को अपनी जान गँवानी पड़ी।

इस मौके पर तलबा ने राहुल गांधी को फेसबुक पर उनके ख़िलाफ़ किए गए कमेंट्स से वाक़िफ़ करवाया, जब कि राहुल गांधी ने तलबा के अलावा रोहित की वालिदा और अरकाने ख़ानदान से काफ़ी देर तक बातचीत की और उन्हें पुर्सा दिया। इस मौके पर तलबा बीजेपी हटाओ और दलित बचाओ का नारा लगा रहे थे।

TOPPOPULARRECENT