Saturday , December 16 2017

तबीआत में ग़ैरमामूली पेशरफ़्त, साईंसदानों का दावा

तबीआत में एक ठोस पेशरफ़्त करते हुए साईंसदानों ने आज ज़ेली एटमी ज़र्रा दरयाफ़त कर लेने का दावा किया है जो Higgs boson यह God particle से भरपूर मुताबिक़त रखता है और एक कलीदी तामीरी उनसर माना जाता है जो कायनात की तशकील का मूजिब बना। स्विटज़रलैंड के CERN रिसर्च सैंटर से वाबस्ता साईंसदानों ने ये तारीख़ी ऐलान किया जो हिग्स की 50 साला तलाश में एक बड़ा संग मील है।

यही माना जाता है कि ये उनसर इन जर्रात को ठोस शक्ल फ़राहम करता है जिन से 13.7 बिलियन साल क़ब्ल ज़ोरदार धमाके (बिग बयाइंग) के बाद आख़िर कार सितारे और सय्यारे वजूद में आए। सी ई आर एन डायरैक्टर जनरल राल्फ हुवोर ने कहा कि हम फ़ित्रत को समझने में एक संग मील तक पहुंच चुके हैं। उन्हों ने कहा कि हिग्स बोसन से मुताबिक़त रखने वाले ज़र्रा की दरयाफ़त मज़ीद तफ़सीली तहक़ीक़ की राह फ़राहम करती है

जिस के लिए मज़ीद बड़े शुमारियात दरकार होंगे जिस से नए ज़र्रा की खासियतें उजागर होंगी और हमारी कायनात की दीगर पुर इसरार बातों पर भी रोशनी पड़ने का इमकान है , एक और टीम लीडर जो अनकेनडेला ने सी ई आर इन में साईंसदानों की भरपोरम इजतिमाको बताया कि तमाम महसला मवाद यक़ीनी कैफ़ियत की इस सतह तक पहुंचा है जो किसी दरयाफ़त के लिए ज़रूरी होता है ।

TOPPOPULARRECENT