Monday , December 18 2017

तमाम तालीमी सदाक़तनामों की आन लॉन पीशकशी का फ़ैसला

तेलंगाना के वज़ीर-ए-ताअलीम जी जगदीश रेड्डी ने कहा कि रियासत में एक भी सरकारी स्कूल बंद नहीं किया जाएगा। वज़ीर-ए-ताअलीम ने जाली तालीमी सदाक़तनामा की तैयारी और इस्तेमाल के मुकम्मिल ख़ातमा के लिए यहां एक आला सतही जायज़ा मीटिंग तलब किया

तेलंगाना के वज़ीर-ए-ताअलीम जी जगदीश रेड्डी ने कहा कि रियासत में एक भी सरकारी स्कूल बंद नहीं किया जाएगा। वज़ीर-ए-ताअलीम ने जाली तालीमी सदाक़तनामा की तैयारी और इस्तेमाल के मुकम्मिल ख़ातमा के लिए यहां एक आला सतही जायज़ा मीटिंग तलब किया जिस में हैदराबाद सिटी पुलिस कमिशनर एम महिन्द्र रेड्डी के अलावा महिकमा तालीम के आला ओहदेदारों ने शिरकत की।

जगदीश रेड्डी ने मीटिंग के बाद अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि जाली सदाक़तनामों की तैयारी और उन्हें फैलाने वालों के ख़िलाफ़ सख़्त तरीन कार्रवाई की जाएगी।

इस मसले के ख़ातमा के इक़दामात शुरू करने के लिए 7 और 8 अक्टूबर को दो रोज़ा मीटिंग तलब किया जा रहा है जिस में वाइस चांसलर, रजिस्ट्रारस, आई टी माहिरीन और पुलिस ओहदेदारान शिरकत करेंगे।

जाली सदाक़तनामों की इस लानत को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए हुकूमत मज़ीद इक़दामात करते हुए तमाम असल सदाक़तनामों को ऑनलाइन पर पेश करेगी। वज़ीर-ए-ताअलीम ने कहा कि रियासती हुकूमत से एक भी स्कूल बंद करने का फ़ैसला नहीं की है बल्कि उन्हें (बाज़ स्कूलों को) माक़ूल बनाया जाएगा।

सरकारी हुक्मनामा नंबर 6 में चंद तबदीलीयां की जाएंगी। स्कूलों को माक़ूल बनाने के लिए जारी करदा सरकारी हुक्मनामा, टीचर्स यूनियनों की तरफ़ से किए गए मुख़्तलिफ़ एतेराज़ के बावजूद बदस्तूर बरक़रार रहेगा।

तलबा की कम तादाद को मल्हूज़ रखे बगै़र एसे स्कूलों को भी बरक़रार रखा जाएगा। तलबा की तादाद में कमी के सबब तक़रीबन 2000 स्कूलों को बंद करने टी आर एस हुकूमत के फ़ैसले से मुताल्लिक़ ख़बर की ज़राए इबलाग़ की कोशिशों में नशर-ओ-इशाअत पर शदीद रद्द-ए-अमल का इज़हार करते हुए कहा कि ये ख़बर बिलकुल ग़लत और बेबुनियाद है।

हुकूमत के पास एसी कोई तजवीज़ ज़ेर-ए-ग़ौर नहीं है। उन्होंने कहा कि टी आर एस हुकूमत, स्कूलों को बंद किए बगै़र तालीमी निज़ाम में तबदीली लाना चाहती है।

TOPPOPULARRECENT