तमिलनाडु के वज़ीर ट्रांसपोर्ट बालाजी ओहदे से बरतरफ़

तमिलनाडु के वज़ीर ट्रांसपोर्ट बालाजी ओहदे से बरतरफ़

चेन्नई: गैर मह्सूब असासा केस में बरात परमाह मई में दुबारा चीफ मिनिस्टर के ओहदे का जायज़ा लेने के बाद जया ललिता ने आज वज़ीर ट्रांसपोर्ट वे सैंथल बालाजी को काबीना से निकाल दिया है और पार्टी के ताक़तवर ओहदे से महरूम करदिया है। रियासती गवर्नर के रोशिया ने वज़ीर ट्रांसपोर्ट वे सैंथल बालाजी को काबीना मुसे निकल देने से मुताल्लिक़ चीफ मिनिस्टर की सिफ़ारिश को क़बूल करलिया है ।

राज भवन के ज़राए ने आज ये इत्तेला दी। गवर्नर ने इस सिफ़ारिश को भी क़बूल करलिया है कि वज़ीर ट्रांसपोर्ट का क़लमदान वज़ीर सनात पी थनगा मनी को मुख़तस करदिया जाना चाहिए। जय ललिता ने पार्टी सेक्रेटरी ज़िला क्रूर की हैसियत से बालाजी को हटा दिया है। ताहम वज़ीरे ट्रांसपोर्ट बालाजी के ख़िलाफ़ अचानक इस कार्रवाई की कोई वजह नहीं बताई गई।

बालाजी 2011 में अन्ना डी एम के इक़्तेदार में आने के बाद ट्रांसपोर्ट का क़लमदान सँभाले हुए थे।

Top Stories