Wednesday , December 13 2017

तरक़्क़ी पसंद इतेहाद हुकूमत के 31 महीनों में 62 घोटाले

सीतापुर, ०२ फरवरी (यू एन आई)बहुजन समाज पार्टी (बी एस पी) की सरबराह और उत्तर प्रदेश की वज़ीर-ए-आला मायावती ने कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी राहुल गांधी के ज़रीया लगाए जा रहे बदउनवानी के इल्ज़ामात का सख़्त जवाब देते हुए कहा कि मर्कज़ में तरक

सीतापुर, ०२ फरवरी (यू एन आई)बहुजन समाज पार्टी (बी एस पी) की सरबराह और उत्तर प्रदेश की वज़ीर-ए-आला मायावती ने कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी राहुल गांधी के ज़रीया लगाए जा रहे बदउनवानी के इल्ज़ामात का सख़्त जवाब देते हुए कहा कि मर्कज़ में तरक़्क़ी पसंद इत्तिहाद की दूसरी हुकूमत के 31 महीने के दौरान 62 बड़े घोटाले सामने आए हैं।

मायावती ने उत्तर प्रदेश असेंबली इंतेख़ाबात के लिए यहां अपने पहले इंतेख़ाबी जलसे में कहा कि बदउनवानी के मुआमले में कम से कम कांग्रेस कुछ ना बोले तो अच्छा है । मर्कज़ की पूरी सरकार बदउनवानी में डूबी हुई है और कांग्रेस की सदर अपनी पार्टी की बदउनवानी के सवाल पर चुप साधे हुए हैं।

कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी मेरी हुकूमत के ख़िलाफ़ इल्ज़ाम तराशी कर रहे हैं लेकिन ये तो वही बात हुई नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली।

लाखों करोड़ों रुपय के टोजी स्पेक्ट्रम, दौलत-ए-मुश्तरका खेलों और आदर्श सोसाइटी घोटाले में कांग्रेस के बड़े लीडरों के नाम जिस तरह सामने आए हैं वो इस पार्टी की बदउनवानी के ख़िलाफ़ झूटी लड़ाई लड़ने की कहानी ख़ुद कहें हैं ।

मायावती ने कहा कि बी एस पी सरकार ने ही क़ौमी देही सेहत मिशन (एन आर एच एम) घोटाले के सिलसिले में दो चीफ़ मैडीकल अफ़िसरों के क़तल की जांच सी बी आई से कराने की दरख़ास्त की थी।

TOPPOPULARRECENT