Thursday , August 16 2018

तलबा को सोच में वुसअत पैदा करने का मश्वरा

हैदराबाद, १६अगस्त (यू एन आई) असल आज़ादी ज़हनी आज़ादी है। लोग अपनी सोच को दूसरों की सोच के ताबे करदेते हैं जिस से उन्हें ख़ातिरख़वाह कामयाबी नहीं मिल पाती जिस के वो मुस्तहिक़ हैं। अगर हम अपनी सोच के बल पर फ़ैसले करें तो हमें कामयाबी

हैदराबाद, १६अगस्त (यू एन आई) असल आज़ादी ज़हनी आज़ादी है। लोग अपनी सोच को दूसरों की सोच के ताबे करदेते हैं जिस से उन्हें ख़ातिरख़वाह कामयाबी नहीं मिल पाती जिस के वो मुस्तहिक़ हैं। अगर हम अपनी सोच के बल पर फ़ैसले करें तो हमें कामयाबी बड़ी आसानी से मिल सकती ही। तालीम का मक़सद सिर्फ मुताल्लिक़ा मज़मून में इलम हासिल करना ही नहीं बल्कि तलबा में अपनी सोच को फ़रोग़ देना भी ही। इस सिलसिले मेंअसातिज़ा को ज़िम्मा दाराना रोल अदा करना होगा।

उन्हें अपने मज़मून के इलावा तलबाकी सोच को मुतय्यन करने में मदद करनी होगी। इन ख़्यालात का इज़हार प्रोफ़ैसर मुहम्मद मियां वाइस चांसलर ने मौलाना आज़ाद नैशनल उर्दू यूनीवर्सिटी में6वें यौम आज़ादी के मौक़ा पर तिरंगा लहराने के बाद अपने में ख़िताब में किया।

उन्हों ने कहा कि आम तौर पर ओहदा से ज़हानत का अंदाज़ा लगाया जाता है। जबकि इस का अंदाज़ा मुख़्तलिफ़ मराहिल में कामयाबी के साथ ज़िंदगी गुज़ारने से लगाया जाना चाहिए। उन्हों ने उसे जज़बाती ज़हानत क़रार देते हुए कहा कि हमें मालूम होना चाहीए कि हम कब जज़बाती हूँ और कब नहीं। यही जज़बाती ज़हानत की कसौटी है। प्रोफ़ैसर मुहम्मद मियां ने इस मौक़ा पर मानव मॉडल स्कूल हैदराबाद और दरभंगा के तलबा की नुमायां कामयाबीयों का ज़िक्र किया। आला तरीन निशानात से कामयाबी हासिल करने वाले तलबाको मज़ीद तालीम के लिए स्कालरशिप दी जा रही है।

यौम आज़ादी तक़रीब के मौक़ा पर स्पोर्टस और गेम्स मुक़ाबलों में हिस्सा लेने वाले स्टाफ़ मर्दो ख़वातीन और तलबा-ए-ओ- तालिबात मैं इनामात और सर्टीफ़िकेटस तक़सीम किए गई। इन मुक़ाबलों का एहतिमामडिपार्टमैंट आफ़ फ़िज़ीकल एजूकेशन ऐंड स्पोर्टस ने किया था। तक़रीब में असातिज़ा तलबाऔर स्टाफ़ की बड़ी तादाद ने शिरकत की। प्रोफ़ैसर ऐच ख़दीजा बेगम रजिस्ट्रार इंचार्ज प्रोफ़ैसर ख़ालिद सईद इंचार्ज डायरैक्टर उर्दू मर्कज़ प्रोफ़ैसर मुहम्मद ज़फ़र उद्दीन डीन स्कूलआफ़ अल्सिना लिसानियात और हनदोसतानयात और प्रोफ़ैसर हुसैन यासीन सिद्दीक़ी मुशीरशेख़ इलजा मआ डाइस पर मौजूद थी। जनाब आबिद अबदुलवासे पब्लिक रेलेशन्ज़ ऑफीसर ने कार्रवाई चलाई और शुक्रिया अदा किया।

डाक्टर मुहम्मद नजीब अल्लाह डिप्टी डायरैक्टर फ़िज़ीकल एजूकेशन ऐंड स्पोर्टस ने स्पोर्टस और गेम्स मुक़ाबलों के इनइक़ाद की निगरानी की। उन्हों ने कहा कि यूनीवर्सिटी में मुख़्तलिफ़ पेशावराना कोर्सज़ बहुत जल्द शुरू किए जाएंगी। उर्दू यूनीवर्सिटी की तरक़्क़ी का सिलसिला जारी ही। इस साल यूनीवर्सिटी ने दो नए कोर्सज़ शुरू किए जिन में एम ए इस्लामिक एसटडीज़ और पी जी डिप्लोमा इन ग्राफ़िक्स ऐंड एनीमेशन शामिल हैं।

अगले साल ग्राफ़िक्स ऐंड एनीमेशन कोर्स की फ़ीस में कमी की जाएगी। इस के इलावा साईंस का 5 साला और एजूकेशन का 4 साला बी टीच मरबूत कोर्स तैय्यार किया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT