Saturday , December 16 2017

तशकीले तेलंगाना के फ़ैसला से दस्तबरदारी का सवाल ही नहीं

साबिक़ सदर प्रदेश कांग्रेस और रुक्न क़ानूनसाज़ कौंसिल डी श्रीनिवास ने कहा कि वसीअतर मुशावरत के बाद ही कांग्रेस ने अलैहदा तेलंगाना रियासत की तशकील का फ़ैसला किया है, लिहाज़ा सी डब्लयू सी के फ़ैसला से दस्त बर्दारी इख़्तियार नहीं

साबिक़ सदर प्रदेश कांग्रेस और रुक्न क़ानूनसाज़ कौंसिल डी श्रीनिवास ने कहा कि वसीअतर मुशावरत के बाद ही कांग्रेस ने अलैहदा तेलंगाना रियासत की तशकील का फ़ैसला किया है, लिहाज़ा सी डब्लयू सी के फ़ैसला से दस्त बर्दारी इख़्तियार नहीं की जाएगी। आज यहां एक प्रैस कान्फ़्रैंस से ख़िताब करते हुए डी श्रीनिवास ने कहा कि सी डब्लयू सी का फ़ैसला क़तई है, इस में कोई तबदीली नहीं होगी।

उन्हों ने कशीदा माहौल में अलैहदा होने की बजाय ख़ुशगवार माहौल में रियासत की तक़सीम को यक़ीनी बनाने पर ज़ोर दिया। उन्हों ने कहा कि तेलुगु अवाम अमरीका, जर्मनी और इंगलैंड में आल ओहदों पर फ़ाइज़ हैं।

इसी तरह हैदराबाद में रहने वाले सीमा-आंध्र के अवाम और मुलाज़मीन तेलंगाना का हिस्सा रहेंगे, उन्हें कोई ख़तरा नहीं है और ना ही किसी ख़द्शा में मुबतला होने की ज़रूरत है। हम सीमा-आंध्र के अवाम और मुलाज़मीन के इलावा उन की जायदादों का तहफ़्फ़ुज़ करेंगे।

तेलंगाना के अवाम बर्सों से अलैहदा रियासत की तशकील के लिए तहरीक चला रहे हैं। गुज़िश्ता 50 बर्सों के दौरान तेलंगाना की तरक़्क़ी और अवाम की फ़लाह और बहबूद के किसी मुआहिदा पर अमल आवरी नहीं हुई।

TOPPOPULARRECENT