Wednesday , June 20 2018

तसलीमा नसरीन की वीजा की मुद्दत एक साल बढी

मुतनाज़ा मुसन्निफा तसलीमा नसरीन को मरकज़ ने एक साल का वीजा दिया है और उन्हें अगस्त 2015 तक हिंदुस्तान में रहने की इज़ाज़त दी है |तसलीमा 1994 से जिला वतनी ज़िंदगी गुजार रही हैं| 51 साला मुसन्निफा को गुजश्ता महीने वज़ारत ए दाखिला ने दो महीने का अर

मुतनाज़ा मुसन्निफा तसलीमा नसरीन को मरकज़ ने एक साल का वीजा दिया है और उन्हें अगस्त 2015 तक हिंदुस्तान में रहने की इज़ाज़त दी है |तसलीमा 1994 से जिला वतनी ज़िंदगी गुजार रही हैं| 51 साला मुसन्निफा को गुजश्ता महीने वज़ारत ए दाखिला ने दो महीने का अराज़ी (Temporary) वीजा दिया था जब वज़ारत ए दाखिला ने उनके वीजा के दरखास्त की जांच का काम शुरू करने का फैसला किया|

वज़ारत ए दाखिला के आफीसर ने कहा, तसलीमा का वीजा अगस्त 2015 तक एक साल के लिए बढ़ा दिया गया है| हिंदुस्तान की तरफ से दो महीने का वीजा देने का फैसला करने के बाद तसलीमा ने वज़ीर ए दाखिला राजनाथ सिंह से दो अगस्त को मुलाकात की थी| उस वक्त वज़ीर ए दाखिला ने तवील मुद्दत के वीजा की उनकी अर्जी पर गौर करने का तयक्कुन दिया था|

तसलीमा को मुबय्यना तौर पर इस्लाम मुखालिफ ख्यालात के लिए शिद्दत पसंद तंज़ीमों से कत्ल की धमकी के मद्देनजर 1994 में बांग्लादेश छोड़ना पड़ा था|तसलीमा अब स्वीडन की शहरी हैं| उन्हें साल 2004 से मुसलसल हिंदुस्तान से वीजा मिल रहा है| वह 1994 से जिला वतनी ज़िंदगी गुजार रही हैं और पिछले दो दहों से अमेरिका, यूरोप और हिंदुस्तान में रह रही हैं|

हालांकि, कई मौके पर उन्होंने हिंदुस्तान में और खासतौर पर कोलकाता में मुस्तकिल तौर पर रहने की अपनी खाहिश जताई है |

TOPPOPULARRECENT