Monday , December 18 2017

तारीख बताने में फिर गलती कर गए मोदी , भगत सिंह को पहुंचाया…

बीजेपी के पीएम कैंडिडेट नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर तारीख के हकाएक को बताते हुए गड़बड़ कर बैठे हैं। मोदी ने भगत सिंह के अंडमान निकोबार की जेल में लंबा वक्त बिताने की बात कही है। जबकि भगत सिंह कभी अंडमान जेल गए ही नहीं। भगत सिंह और उनके

बीजेपी के पीएम कैंडिडेट नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर तारीख के हकाएक को बताते हुए गड़बड़ कर बैठे हैं। मोदी ने भगत सिंह के अंडमान निकोबार की जेल में लंबा वक्त बिताने की बात कही है। जबकि भगत सिंह कभी अंडमान जेल गए ही नहीं। भगत सिंह और उनके साथी दिल्ली के आसपास की जेलों में कैद रहे थे। अंडमान निकोबार की जेल में वीर सावरकर ज़्यादा दिनों तक बंदी रहे थे।

नरेंद्र मोदी यह गलती बुध के रोज़ 2022 विजन ऑफ इंडिया के तहत गांधी नगर में ई-नगर के इख्तेताम के मौके पर कहा था । मोदी ने मुल्क की आजादी के लिए अपनी ज़िंदगी को कुरबान करने वाले भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव को अंडमान की जेल में लंबा अरसा गुजारने का दावा कर दिया।

गौरतलब है दिल्ली में विधानसभा में 1929 में बम फोड़ने के बाद भगत सिंह और उनके साथी बटुकेश्वर दत्त ने खुद को दिल्ली में पुलिस के हवाले कर दिया था। इसके बाद उन्हें मियावली की जेल में शिफ्ट कर दिया गया था। लाहौर साजिश केस में भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को 1931 में मार्च में लाहौर जेल में फांसी दे दी गई थी।

TOPPOPULARRECENT