Saturday , December 16 2017

तालिबान अमरीका के दुश्मन नहीं : जोबीडन

वाशिंगटन 21 दिसमबर (पी टी आई) अमरीका ने कहा कि तालिबान अमरीका के दुश्मन नहीं हैं। ये इक़दाम ओबामा नज़म-ओ-नसक़ का ताज़ा तरीन इक़दाम है, जिस से साबित होता है के ओबामा हुकूमत अफ़्ग़ान तालिबान के साथ सुलह की ख़ाहिशमंद है।रिसाला न्यूज़व

वाशिंगटन 21 दिसमबर (पी टी आई) अमरीका ने कहा कि तालिबान अमरीका के दुश्मन नहीं हैं। ये इक़दाम ओबामा नज़म-ओ-नसक़ का ताज़ा तरीन इक़दाम है, जिस से साबित होता है के ओबामा हुकूमत अफ़्ग़ान तालिबान के साथ सुलह की ख़ाहिशमंद है।रिसाला न्यूज़वीक की इत्तिला के बमूजब नायब सदर अमरीका जोबीडन ने रिसाला को इंटरव्यू देते हुए कहा कि तालिबान अमरीका के दुश्मन नहीं हैं।

वो अमरीका के नाक़िद हैं। उन्हों ने कहा कि सदर अमरीका का एक भी ब्यान ऐसा नहीं मिलता जिस में उन्हों ने कभी भी अमरीकी पालिसी के तेहत तालिबान को अमरीका का दुश्मन क़रार दिया हो और कहा हो कि तालिबान से अमरीकी मफ़ादात ख़तरा में है। नायब सदर अमरीका ने कहा कि दरहक़ीक़त तालिबान मौजूदा हुकूमत को इक़तिदार से बेदखल करने की सलाहीयत रखते हैं जो अमरीका से तआवुन कररही है।

तालिबान से हमें बेशक नुक़्सान पहुंचा है, लेकिन ये उस वक़्त की बात है जबकि तालिबान अमरीका के लिए एक मसला बने हुए थे, लेकिन अब सूरत-ए-हाल तबदील होचुकी है। अमरीका तालिबान पर दबाॶ बरक़रार रखेगा और उन का ख़ातमा भी किया जाएगा, साथ ही साथ हुकूमत अफ़्ग़ानिस्तान को इतना मुस्तहकम बनाया जाएगा कि तालिबान उसे कोई नुक़्सान ना पहुंचा सकें और ना इक़तिदार से बेदखल करसकें। इस के साथ हम तालिबान को मुफ़ाहमत के ज़रीया अफ़्ग़ानिस्तान के क़ौमी धारे में शामिल होने का मौक़िफ़ भी देंगे

बशर्तिके वो अलक़ायदा से अपने ताल्लुक़ात तर्क करदें। अमरीका इस के हलीफ़ों को नुक़्सान पहुंचाना बंद करदें।

TOPPOPULARRECENT