Tuesday , December 19 2017

तालिबान का अपने मुख़ालिफ़ जंगजू ग्रुप पर हमला, 15 हलाक

पाकिस्तानी क़बाइली इलाक़े ओरकज़ई एजेंसी में आज तालिबान मुख़ालिफ़ एक जंगजू गिरोह पर एक ख़ुदकुश हमले के नतीजे में कम अज़ कम 15 अफ़राद हलाक जबकि छः और बाअज़ इत्तिलाआत में 20 दीगर ज़ख़्मी हो गए हैं। एक मुक़ामी सरकारी ओहदेदार वाजिद ख़ान ने कहा है क

पाकिस्तानी क़बाइली इलाक़े ओरकज़ई एजेंसी में आज तालिबान मुख़ालिफ़ एक जंगजू गिरोह पर एक ख़ुदकुश हमले के नतीजे में कम अज़ कम 15 अफ़राद हलाक जबकि छः और बाअज़ इत्तिलाआत में 20 दीगर ज़ख़्मी हो गए हैं। एक मुक़ामी सरकारी ओहदेदार वाजिद ख़ान ने कहा है कि हमले के वक़्त मक़ामी कमांडर मौलवी नबी हन्फ़ी अपने मर्कज़ में मौजूद नहीं थे।

ताहम बर्तानवी ख़बररसां इदारा के मुताबिक़ ज़ख़्मीयों में हन्फ़ी भी शामिल हैं और उन्हें तिब्बी इमदाद के लिए अस्पताल दाख़िल करा दिया गया है। नबी हन्फ़ी इस इलाक़े में तालिबान के ख़िलाफ़ लड़ रहे हैं।

वाजिद ख़ान के मुताबिक़ हमला आवरों ने पहले गांव बुलंदख़ील में हन्फ़ी के कम्पाऊंड पर फायरिंग की और फिर एक ख़ुदकुश हमला आवर ने बारूद से भरी गाड़ी को उड़ा दिया। हन्फ़ी ग्रुप ने अंदरूनी इख़्तिलाफ़ात के बाइस 2009 में पाकिस्तान तहरीके तालिबान से अलैहदगी इख़्तियार कर ली थी।
गुज़िश्ता बरस भी मौलवी हन्फ़ी पर इसी तरह का एक हमला किया गया था, जिस में कम अज़ कम दस अफ़राद मारे गए और हन्फ़ी महफ़ूज़ रहे थे।

TOPPOPULARRECENT