Wednesday , December 13 2017

तिलंगाना पर अनक़रीब फ़ैसला , सदर राज का इमकान नहीं

नई दिल्ली। 9 अक्तूबर (पी टी आई) कांग्रेस ने आज आंधरा प्रदेश में सदर राज के नफ़ाज़ को ख़ारिज अज़ इमकान क़रार दिया और कहा कि तलंगाना पर बहुत जल्द फ़ैसला किया जाएगा। अलैहदा रियासत तलंगाना केलिए जारी एहतिजाज इतवार को 27 वीं दिन में दाख़िल होर

नई दिल्ली। 9 अक्तूबर (पी टी आई) कांग्रेस ने आज आंधरा प्रदेश में सदर राज के नफ़ाज़ को ख़ारिज अज़ इमकान क़रार दिया और कहा कि तलंगाना पर बहुत जल्द फ़ैसला किया जाएगा। अलैहदा रियासत तलंगाना केलिए जारी एहतिजाज इतवार को 27 वीं दिन में दाख़िल होरहा है। दार-उल-हकूमत दिल्ली में गवर्नर ई ऐस एल नरसिम्हन और चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी से बातचीत के बाद आंधरा प्रदेश में कांग्रेस उमूर के इंचार्ज वज़ीर-ए-सेहत ग़ुलाम नबी आज़ाद ने कहा कि फ़िलहाल आंधरा प्रदेश सदर राज का सवाल ही पैदा नहीं होता। उन्हों ने वज़ीर फ़ीनानस परनब मुकर्जी तलंगाना के चीफ़ मुज़ाकरात कार से आला सतही इजलास के बाद ऐलान किया कि तलंगाना पर कांग्रेस पार्टी ग़ौर-ओ-ख़ौज़ कररही है। आज का इजलास भी इसी मुशावरत का हिस्सा है। ग़ुलाम नबी आज़ाद ने गुज़श्ता हफ़्ता ही तलंगाना मुतालिबा से मुताल्लिक़ रिपोर्ट को पेश किया था। उन्हों ने कहा कि तलंगाना का मसला एक या दो दिन में हल नहीं किया जा सकता। चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी ने भी कहा कि मर्कज़ तलंगाना का बहुत जल्द कोई हल बरामद करेगा। उन्हों ने मर्कज़ी क़ाइदीन से मुलाक़ात के बाद अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि मैंने कांग्रेस क़ाइदीन को अपनी राय से वाक़िफ़ करवा दिया है और रियासत की सूरत-ए-हाल से भी आगही की है। किरण कुमार रेड्डी ने अपनी पार्टी के मौक़िफ़ का इआदा करते हुए कहा कि आंधरा प्रदेश में सदर राज का मसला पैदा नहीं हुआ। सूरत-ए-हाल ऐसी नहीं है कि सदर राज नाफ़िज़ किया जा सके। तलंगाना इलाक़ा में एहतिजाज और हड़ताल के बाइस जो सूरत-ए-हाल रौनुमा होरही ही, इस के पेशे नज़र सदर राज के नफ़ाज़ की क़ियास आराईयां की जा रही थीं। क़ब्लअज़ीं आंधरा प्रदेश के गवर्नर ई ऐस ईल नरसिम्हन ने वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह से मुलाक़ात की और एहतिजाज से मुतास्सिरा इलाक़ा में सूरत-ए-हाल से वाक़िफ़ करवाया। रियासत में तलंगाना के मसला पर पैदा शूदा सूरत-ए-हाल को दूर करने केलिए दार-उल-हकूमत दिल्ली में सयासी सरगर्मीयां तेज़ होगई हैं, ताहम रियासत से ताल्लुक़ रखने वाले का बीनी वुज़रा की राय हासिल करने के बाद मर्कज़ी हुकूमत तलंगाना मसला पर अपने मौक़िफ़ को वाक़िफ़ नहीं किया। सीनीयर वुज़रा परनब मुकर्जी और पी चिदम़्बरम ने अपने का बीनी रफ़क़ा और आंधरा प्रदेश के कांग्रेस क़ाइदीन से तलंगाना रियासत के मुतालिबा पर तबादला-ए-ख़्याल किया, लेकिन इलाक़ाई ख़ुतूत पर पार्टी अमलन मुनक़सिम देखी गई। परनब मुकर्जी और चिदम़्बरम ने मुमलिकती वज़ीर फ़रोग़ इंसानी वसाइल डी पोरनदीशोरी और मुमलिकती वज़ीर-ए-दिफ़ा ऐम ऐम पल्लम राजू से अलैहदा अलैहदा मुलाक़ात की और तलंगाना के नाज़ुक मसला पर उन के राय तलब की, लेकिन पोरनदीशोरी और राजू ने जो साहिली आंधरा से ताल्लुक़ रखते हैं और राइलसीमा ख़ित्ता के कांग्रेस क़ाइदीन ने अलैहदा रियासत तलंगाना की मुख़ालिफ़त की। मुलाक़ात के बाद पोरनदीशोरी और राजू ने इस मसला पर अपनी राय का इज़हार किया। पोरनदीशोरी ने कहा कि मर्कज़ी क़ाइदीन ने हम से राय तलब की थी। मैंने अपनी राय दी है और अवाम के अंदेशों से वाक़िफ़ करवा दिया है। पल्लम राजू ने कहा कि मैंने अपनी राय देने के इलावा अलैहदा रियासत तिलंगाना के क़ियाम के बाद आंधरा प्रदेश पर मुरत्तिब होने वाले असरात से भी वाक़िफ़ करवाया है। सदर प्रदेश कांग्रेस और दीगर क़ाइदीन भी दिल्ली में कांग्रेस के सीनीयर क़ाइदीन से मुलाक़ात कररहे हैं। क़ब्लअज़ीं सदर कांग्रेस सोनीया गांधी की ज़ेर-ए-क़ियादत कांग्रेस कोर कमेटी का इजलास मुनाक़िद किया गया था जिस में इस मसला पर क़तई ग़ौर-ओ-ख़ौज़ की ज़रूरत ज़ाहिर की गई थी। गवर्नर नरसिम्हन ने आज सुबह वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह और वज़ीर-ए-दाख़िला पी चिदम़्बरम से मुलाक़ात की। तलंगाना में ला ऐंड आर्डर की सूरत-ए-हाल पर तबादला-ए-ख़्याल किया। इस मुलाक़ात के दौरान वज़ीर फ़ीनानस परनब मुकर्जी भी मौजूद थे, जबकि परनब मुकर्जी ने अलैहदा तौर पर वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह और सदर कांग्रेस सोनीया गांधी से मुलाक़ात करके तलंगाना मसला पर बातचीत की। चिदम़्बरम ने इस मसला पर मर्कज़ के जायज़ा को भी पेश किया। मोतमिद दाख़िला आर के सिंह, अनटलीजनस ब्यूरो (आई बी) डायरैक्टर निश्चल संधू और सैक्रेटरी दाख़िली सलामती यू के बंसल भी एक घंटा तवील इजलास में शरीक थी। इसी दौरान परनब मुकर्जी, चिदम़्बरम , ए के अंतोनी और अहमद पटेल पर मुश्तमिल एक ज़ेली कोर कमेटी का भी इजलास मुनाक़िद हुआ, लेकिन इस इजलास में ग़ौर-ओ-ख़ौज़ किए गए मसला की तफ़सील मालूम ना होसकी। गवर्नर आंधरा प्रदेश की दिल्ली तलबी के बाद रियासत में क़ियास आराईयां की जा रही थीं कि तलंगाना मसला पर तशद्दुद के पेशे नज़र रियासत में सदर राज नाफ़िज़ किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT