Monday , December 18 2017

तीन इंजीनियरों के यहां छापे, छह करोड़ की ज़ायदाद मिली

एक़्तेसादी जुर्म यूनिट (इओयू) ने बुध को पीएचइडी के तीन इंजीनियरों के यहां छापेमारी कर पांच करोड़ 81 लाख 77 हजार 738 रुपये से ज़्यादा की ज़ायदाद जब्त की। तीनों इंजीनियरों पर आमदनी से ज़्यादा ज़ायदाद इजरत करने का मामला दर्ज किया गया है।

एक़्तेसादी जुर्म यूनिट (इओयू) ने बुध को पीएचइडी के तीन इंजीनियरों के यहां छापेमारी कर पांच करोड़ 81 लाख 77 हजार 738 रुपये से ज़्यादा की ज़ायदाद जब्त की। तीनों इंजीनियरों पर आमदनी से ज़्यादा ज़ायदाद इजरत करने का मामला दर्ज किया गया है।

एडीजी (मुख्यालय) रवींद्र कुमार ने बताया कि पीएचइडी के समस्तीपुर डिवीजन के एक्सजेक्यूटिव इंजीनियर संजय कुमार सिंह, बेगूसराय डिवीजन के एक्सजेक्यूटिव इंजीनियर प्राणवेश सिंह और छपरा डिवीजन के इंजीनियर अरविंद कुमार के 11 ठिकानों पर इओयू ने छापेमारी की।

संजय कुमार सिंह के पास से 3.09 करोड, प्राणवेश सिंह के पास से 1.57 करोड़ और अरविंद कुमार के पास से 1.15 करोड़ की ज़ायदाद मिली है। इसके अलावा जमीन, मकान, बैंकों के कागजात जब्त किये गये हैं। तहक़ीक़ की कार्रवाई जारी है। पुनपुन ब्लॉक के पोठही वाक़ेय इ स्मार्ट प्राइवेट लिमिटेड आइटीआइ में देर शाम तक छापेमारी चलती रही। इस दौरान टीम ने आइटीआइ दफ्तर की फाइलों को खंगाला। यह आइटीआइ इंजीनियर अरविंद कुमार के बेटे के नाम पर है।

इओयू की चार रुकनी टीम ने एक्सजेक्यूटिव इंजीनियर संजय कुमार सिंह के डेहरी के डालमियानगर वाक़ेय घर और आरडी इंडेन गैस एजेंसी के दफ्तर को खंगाला। इस दौरान गाजियाबाद वाक़ेय फ्लैट, जमीन के दस्तावेज, बैंकों की पासबुक और नकद बरामद किये गये। इंजीनियर के वालिद अंबिका प्रसाद सिंह, आरडी इंडेन गैस एजेंसी की मालिकन रुचि सिंह समेत कई दीगर अफराद से पूछताछ कर संजय सिंह की दीगर ज़ायदाद के बारे में जानकारी हासिल की गयी।

TOPPOPULARRECENT