Monday , January 22 2018

तीन तलाक़ के मुद्दे पर सूरत में मुस्लिम औरतों का प्रदर्शन

सूरत : तीन तलाक के मुद्दे पर गुजरात के सूरत शहर में हज़ारों की तादाद में मुस्लिम महिलाओं ने प्रदर्शन किया. इन मुस्लिम महिलाओं की मांग है कि तलाक़ के मामले में सरकार दख़ल ना दे. महिलाओं ने इस संबंध में मांगपत्र ज़िलाधिकारी को सौंपा. गुजरात के सूरत शहर में शुक्रवार को हज़ारों की तादाद में मुस्लिम महिलाएं सड़कों पर उतरीं. उनके हाथ में बैनर थे, जिस पर लिखा था ‘ शरियत क़ानून को सरकार बदलने की कोशिश न करे’

परदर्शन कर रहे लोग खुल कर बात कर रहे थे और कहा की तलाक़ के मामले में शरियत क़ानून ही श्रेष्ठ है. भारत के संविधान से भी यह मामला ऊपर है.” एक औरत ने बताया, “हम भारत के संविधान को सलाम करते है, लेकिन जब बात शरियत की आती है, तो हमें क़ुरान का बताया रास्ता ही सबसे सही मालूम होता है. इस हालत में भारत सरकार कॉमन सिविल कोड के सहारे इस्लाम में हस्तक्षेप करना छोड़ दे.”

रैली के आयोजन कर रहे मुकसुद अहमद ने कहा, “यह प्रदर्शन किसी संस्था द्वारा आयोजित नहीं था, लेकिन कॉमन सिविल कोड को लेकर मुल्क में जो हालात खड़े हुए हैं, उसको लेकर सूरत की औरतें अपने आप आगे आई हैं. मेरा मानना है कि कॉमन सिविल कोड के नाम पर भारत सरकार शरियत क़ानून में दखल दे रही है.”

TOPPOPULARRECENT