तुर्की और कुर्दों के तसादुम में फंसे बच्चे

तुर्की और कुर्दों के तसादुम में फंसे बच्चे

अमीन सेगीरेगा ने उस रोज़ से गोलीयों के तीन ख़ौल संभाल कर रखे हुए जिस रोज़ उनकी बेटी पर गोली चलाई गई थी। चौथी गोली उस की 10 साला बेटी सेमायल की फ़ौरी हलाकत का सबब बनी।

गुम और सकते के आलम में अमीन अपने बाग़ीचे में बैठी है। इस की बेटी की एक तस्वीर उस के लिबास पर जुड़ी हुई है। जुलाई में कुर्दों की अस्करीयत पसंद तंज़ीम पी के के और तुर्की की हुकूमत के दरमयान दो साल की तवील जंग बंदी के मुआहिदा के नाकाम होने के बाद से जीज़रा शहर को बदतरीन फ़सादाद सामना है।

इलाक़े में नौ दिन से कर्फ़्यू नाफ़िज़ है सेमायल के लिए कोई एम्बूलैंस नहीं आई और उस का ख़ानदान उस की तदफ़ीन के लिए अपना घर नहीं छोड़ सकता।

Top Stories