Thursday , November 23 2017
Home / World / तुर्की को ‘ब्लैक मेल’ नहीं करने देंगे

तुर्की को ‘ब्लैक मेल’ नहीं करने देंगे

यूरोपीय सरब्राहान की कोशिश है कि यूरोपीय यूनीयन और तुर्की के माबैन पनाह गुज़ीनों के मसले पर मुआहिदे को हतमी शक्ल देने से क़ब्ल रुक्न ममालिक में मुकम्मल इत्तिफ़ाक़े राय पैदा कर लिया जाए।

यूनीयन और तुर्की के दरमयान इजलास कल शुरू हो रहा है। यूरोपीय कौंसिल के सदर डोनल्ड टस्क के मुताबिक़ यूनीयन और तुर्की के माबैन मुहाजिरीन के बोहरान से निमटने के लिए मुआहिदा तय पा गया तो ये खेल बदल देगा।

मुजव्वज़ा मुआहिदे के मुताबिक़ तुर्की से यूनान आने वाले तारकीने वतन को वापिस तुर्की भेज दिया जाएगा। समुंद्री रास्तों के ज़रीए यूनान पहुंचने वाले शामी मुहाजिरीन को भी तुर्की भेज दिया जाएगा लेकिन उनके बदले तुर्क कैम्पों में मुक़ीम शामी शहरीयों को यूरोप में पनाह दी जाएगी।

अहम डील को हतमी शक्ल दिए जाने से क़ब्ल ही मुख़्तलिफ़ यूरोपीय ममालिक की जानिब से मुख़ालिफ़त देखी जा रही है। फ़्रांस और चेक जम्हूरीया ने ख़बरदार किया है कि तुर्की मुहाजिरीन के बोहरान की आड़ में यूरोप को ब्लैक मेल करने की कोशिश कर रहा है।

अक़वामे मुत्तहिदा भी इस मुजव्वज़ा मुआहिदे को मुहाजिरीन और इन्सानी हुक़ूक़ से मुताल्लिक़ बैनुल अक़वामी क़वानीन से मुतसादिम क़रार दे चुकी है।

TOPPOPULARRECENT