Monday , December 11 2017

तुर्की में एहतेजाजी मुज़ाहिरों से पुरअमन कार्रवाई मुतास्सिर

अनक़रा 9 जुलाई (ए एफ़ पी ) वज़ीरे आज़म तुर्की रजब तैयब उर्दगान ने अह्द किया कि वो तुर्की के तक़रीबन दीढ़ करोड़ कुर्दों से मुफ़ाहमत करना चाहते हैं लेकिन हालिया हफ़्तों में तुर्की में पेश आने वाले वाक़ियात से पता चलता है कि अमन कार्र

अनक़रा 9 जुलाई (ए एफ़ पी ) वज़ीरे आज़म तुर्की रजब तैयब उर्दगान ने अह्द किया कि वो तुर्की के तक़रीबन दीढ़ करोड़ कुर्दों से मुफ़ाहमत करना चाहते हैं लेकिन हालिया हफ़्तों में तुर्की में पेश आने वाले वाक़ियात से पता चलता है कि अमन कार्रवाई पहले ही मुतास्सिर हो चुकी है।

इस्तंबूल की सड़कों पर 31 मई से एहतेजाजी मुज़ाहिरे जारी हैं और अब तुर्की के दीगर शहरों तक भी एहतेजाज की लहर फैल गई है । कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी ( पी के के ) ने 21 मार्च से जंग बंदी का एलान किया था लेकिन अब ये एलान पसमंज़र में चला गया है।

रजब तैयब उर्दगान के हालिया तबसरा एहतेजाज के दौरान एक नौजवान कुर्द की हलाकत के बाद मंज़रे आम पर आए हैं । ये नौजवान 28 जून को क़स्बा लाइस में जो दियारबकर के क़रीब हैं पुलिस की फायरिंग से हलाक हो गया था।

TOPPOPULARRECENT