तुर्की में चुनाव रद्द, 23 जुलाई को दोबारा होगा इलेक्शन!

तुर्की में चुनाव रद्द, 23 जुलाई को दोबारा होगा इलेक्शन!

तुर्की में उच्च चुनाव परिषद ने इस्तांबूल शहर की महानगर पालिका का चुनाव निरस्त कर दिया है। इस चुनाव में देश की सत्ताधारी जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी के विरोधी को विजय मिली थी।

उच्च चुनाव परिषद ने सोमवार की रात घोषणा कर दी कि वह इस्तांबूल में हुए चुनावों के परिणामों को निरस्त करती है और आगामी 23 जुलाई को इस शहर में दोबारा चुनाव कराए जाएंगे।

पार्स टुडे डॉट कॉम के अनुसार, तुर्की के मुख्य विपक्षी दल पीपल्ज़ रिपब्लिक पार्टी ने कहा है कि इस्तांबूल के चुनाव को रद्द करना खुली हुई तानाशाही है और इससे पता चलता है कि सत्ताधारी पार्टी के निकट जनादेश का कोई सम्मान नहीं है।

गत 31 मार्च को होने वाले चुनावों में इस्तांबूल में पीपल्ज़ रिपब्लिक पार्टी के नेता अकरम इमाम ओग़लू को बहुमत मिला था। उन्होंने देश की सत्ताधारी पार्टी के उम्मीदवार बिन अली येल्दरीम को हराकर इस्तांबूल के मेयर पद पर क़ब्ज़ा किया था। उन्हें 29 हज़ार मतों से विजय प्राप्त हुई।

सत्तधारी जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी की मांग पर वोटों को दोबारा गिनती हुई और जीत का अंतर कम होकर 13 हज़ार तक पहुंच गया और अकरम इमाम ओग़लू इस्तांबूल के मेयर नामित हो गए मगर जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी ने चुनावों में धांधली का आरोप लगाकर इसे रद्द करने और दोबारा चुनाव कराने की मांग की।

निकाय चुनावों में जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी को लगभग 51 दशमलव 7 प्रतिशत वोट मिले लेकिन अंकारा, इस्तांबूल, इज़मीर और अंतालिया जैसे बड़े शहर उसके हाथ से निकल गए। इस चुनाव को राष्ट्रपति अर्दोग़ान की नीतियों के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है।

Top Stories