Wednesday , December 13 2017

तुर्की में जन्मे डच एमपी ने गीर्ट वाइल्डर्स बोलती की बंद‌

“गीर्ट वाइल्डर्स” जो अपने विरोधी-आप्रवास और विरोधी-इस्लाम के पदों के लिए जाने जाते है, ने कल डच संसद में कहा कि “यहां केवल डच रहना चाहिए है,मैं इस घर में तुर्की मोरक्कोन्स या स्वीडिश नहीं चाहता हूं”।

“टुनहन कुज़ू” को एक सांसद के रूप में जाना जाता है जो नीदरलैंड में तुर्की समुदाय की चिंता का विषय नहीं रखते। उन्होंने इसका जवाब दिया,टुनहन कुज़ू ने कहा इस देश में गीर्ट वाइल्डर तय‌ नहीं करसकते कि कौन डच है और कौन नहीं है। इस देश का संविधान तय करेगा कौन डच है और कौन नहीं है और दोहरी राष्ट्रीयता किसी के निष्ठा के बारे में कुछ भी नहीं कहती है।

इज़राइली प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की यात्रा के दौरान 7 सितंबर 2016 को निचले सदन में , उन्होंने एक फिलिस्तीनी समर्थक बटन उठाया उन्होंने नेतन्याहू को हिला देने से इंकार कर दिया क्योंकि वह कब्जे वाले क्षेत्रों के बारे में इजरायल की नीति से सहमत नहीं था।

 

TOPPOPULARRECENT