तुर्की में तीन महीने के लिए आपातकाल की घोषणा

तुर्की में तीन महीने के लिए आपातकाल की घोषणा
Click for full image

पिछले सप्ताह तुर्की सरकार के खिलाफ विद्रोह की नाकाम कोशिश के बाद राष्ट्रपति रजब तैयब इर्दोगान ने देश में तीन महीने के लिए आपातकाल की घोषणा कर दी है।
राष्ट्रपति इर्दोगान ने इस बात की घोषणा अंकारा में एक बैठक के दौरान किया। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को विद्रोह के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ तेजी से कार्रवाई करने में आसानी होगी।

आपात स्थिति के कार्यान्वयन के बाद राष्ट्रपति इर्दोगान को संसद को दरकिनार करने से कुछ नागरिक अधिकारों को निलंबित करने का अधिकार मिल जाएगा। हालांकि उन्होंने वादा किया है कि वे नागरिकों के मौलिक अधिकारों की रक्षा करेंगे। पिछले सप्ताह तुर्की सरकार के खिलाफ विद्रोह की नाकाम कोशिश के बाद राष्ट्रपति रजब तैयब इर्दोगान ने देश में तीन महीने के लिए आपातकाल की घोषणा कर दी है।

तुर्क राष्ट्रपति ने कहा कि अन्य देशों के लिए तुर्की के मामलों से परे रहना चाहिए। ‘इस देश को अपने भाग्य का फैसला खुद करने का अधिकार है।’ उधर जर्मन विदेश मंत्री फ्रैंक वाल्टर शटाईन मेयर ने तुर्की में आपातकाल लागू करने की घोषणा पर प्रतिक्रिया में कहा है कि आपातकाल केवल अंतिम उपाय के रूप में लगानी चाहिए थी और उसे सिर्फ इतनी अवधि तक लागू रहना चाहिए जब तक यह आवश्यक है।

उन्होंने तुर्की सरकार से आग्रह किया कि उसे अपराधियों को निशाना बनाना चाहिए, न कि राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को। दुसरी ओर तुर्क अधिकारियों ने पिछले सप्ताह सरकार के खिलाफ विद्रोह की नाकाम कोशिश के आरोप में गिरफ्तार किए गए 99 जनरलों के खिलाफ आरोप तय करदी है।

Top Stories