Sunday , September 23 2018

तुर्की-रूस के S-400 हवाई रक्षा प्रणाली के अनुबंध पर नाटो चिंतित, 2020 से डील होगा लागू

इस्तांबुल : रूस वर्ष 2020 की शुरुआत में तुर्की के साथ S-400 हवाई रक्षा प्रणाली के वितरण पर अनुबंध को लागू करना शुरू करेगा, इस सैन्य सहयोग पर राष्ट्रपति के सहयोगी ने स्थानीय टेलीविजन को बताया है। व्लादिमीर कोज़िन ने सोमवार को रॉसिया 24 को बताया की “तुर्की ने अपने कार्यान्वयन में तेजी लाने की इच्छा व्यक्त की और हमने सबसे उपयुक्त समाधान खोजने में कामयाब रहे क्योंकि हम अनुबंध के कार्यान्वयन में तेजी लाने के लिए सहमत हुए हैं, इसलिए मुझे लगता है कि हम 2020 की शुरुआत में इसे पूरा करना शुरू कर देंगे,” कोज़िन ने यह भी कहा था कि रूस को नए हथियारों की आपूर्ति पर ग्रीस और यूनानी साइप्रस प्रशासन से अनुरोध था, लेकिन उन्होंने कहा कि यह जानकारी देने के लिए अभी बहुत जल्दी होगा।

S400


पिछले दिसंबर में, तुर्की ने घोषणा की थी कि 2020 की शुरुआत में दो S-400 प्रणालियों की खरीद के लिए रूस के साथ एक समझौता हुआ था। S400 प्रणाली 2007 के बाद से रूसी सेना की सूची में रही है। यह मिसाइल प्रणाली 600 किलोमीटर की दूरी पर लक्ष्य का पता लगाने और चुपके से उड़ने वाले विमान और बैलिस्टिक मिसाइल जैसे लक्ष्य को मारने गिराने में सक्षम है। S400 सिस्टम कम से कम एक मोबाइल ऑपरेशन कमांड सेंटर, आठ लांचरों और 32 मिसाइलों से बना है।

नाटो
तुर्की का कहना है कि रूस से एक उन्नत मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने का फैसला नाटो के लिए कोई राजनीतिक संदेश भेजने का उद्देश्य नहीं है। लेकिन तुर्की इस सौदा की घोषणा के बाद से नाटो ने इस चिंताओं को उठाया है, जिसकी तुर्की सदस्य है। नाटो की सैन्य समिति के अध्यक्ष जनरल पेट्र पावेल ने रूस से संभावित S-400 खरीद के परिणाम के बारे में तुर्की को चेतावनी दी है। पावेल ने 25 अक्टूबर को वाशिंगटन डीसी में संवाददाताओं से कहा, “रक्षा उपकरणों के अधिग्रहण में स्पष्ट रूप से सार्वभौमिकता का सिद्धांत मौजूद है, लेकिन उसी तरह कि राष्ट्रों का अपना निर्णय लेने में स्वायत्त है, वे भी इस निर्णय के परिणामों का सामना करने में स्वायत्त हैं।”

TOPPOPULARRECENT