Saturday , December 16 2017

तूफान कोमैन की वजह से झारखंड में झमाझम बारिश

रांची : तूफान कोमैन का झारखंड पर भी असर पड़ा है। जुमा और सनीचर को तेज हवाओं के साथ पूरे रियासत में बारिश हुई। बंगाल का सरहदी इलाका होने की वजह से संताल परगना में 150 मिलीमीटर बारिश हुई। दुमका में बारिश की वजह से भारी तबाही हुई है। मौसम महकमा के मुताबिक गुजिशता 24 घंटे के दौरान रियासत में महेशपुर में सबसे ज़्यादा बारिश 170 मिमी रिकार्ड की गयी। इसके बाद दुमका में 150 मिमी और सारठ में 90 मिमी बारिश हुई। दारुल हुकूमत रांची में 96 मिमी बारिश हुई। इसके अलावा रियासत के मुखतलिफ़ इलाकों में 10 से लेकर 140 सेमी तक बारिश रिकॉर्ड की गयी। मुसलसल हो रही बारिश की वजह से दर्जे हरारत में भी गिरावट दर्ज की गयी है।

बारिश अगले तीन दिन तक होती रहेगी। इस दौरान आसमान में बादल छाए रहेंगे। मौसम सायनस्टिस के मुताबिक सनीचर को आसमान में डिप्रेशन की हालत बनेगी। इस वजह से अगले तीन दिन तक अच्छी बारिश होगी। रियासत में साउथ वेस्ट मानसून सरगर्म है। राजस्थान, मेरठ, गोरखपुर व भागलपुर तक आसमान में लो प्रेशर एरिया बना हुआ है, जिसका फाइदा झारखंड को भी मिलेगा।

दुमका और जामताड़ा से मिली खबर के मुताबिक जुमेरात की रात दुमका, जामताड़ा और आसपास के इलाके में मूसलाधार बारिश से भारी तबाही हुई है। घर गिरने से मसलिया ब्लॉक के दलाही इलाके में कुंजबना गांव एक की मौत हो गई। दो लोग संगीन तौर से जख्मी हुए। बासुकीनाथ में रेल अंडर ब्रिज के पास डाउन लूप रेल लाइन के नीचे से करीब 10 फीट लंबाई में मिट्टी बह जाने से रेल पटरी लटक गई है। डाउन लूप रेल लाइन पर ट्रेनों का आन जाना रोक दिया गया है। लूप अप लाइन और मेन लाइन से ट्रेनों का चलना जारी हुआ। दुमका शहरी पानी सप्लाय मंसूबा की पाइप नदी में पिलर के साथ बह जाने से शहर में पानी की सप्लाई ठप हो गई है। अगले पांच से छह दिन तक शहरी पानी सप्लाय निजाम ठप रहने की उम्मीद है।

जामताड़ा जिले के नारायणपुर ब्लॉक के दलदला, वीरसिंगपुर और कोरिडीह गांव के तकरीबन एक दर्जन से ज़्यादा घरों में बारिश का पानी घुस गया। नाला ब्लॉक के सालुका गांव में बारिश की वजह से गांव की जोरिया में उफान आने से जोरिया की मिट्टी तथा बालू बगल के खेत में चला गया है। इससे तकरीबन 10 एकड़ में धान की फसल बर्बाद हो गई है। हजारीबाग में 20.5 मिमी बारिश हुई है। चतरा में भी रुक-रुक कर बारिश हो रही है। कोडरमा में 26.5 मिमी बारिश हुई। पलामू डिवीजन में भी जमकर बारिश हुई है। गुमला, लोहरदगा और सिमडेगा भी तूफान का असर देखा गया।

 

TOPPOPULARRECENT