Tuesday , December 19 2017

तृणमूल कांग्रेस क़ौमी शनाख़्त की राह पर गामज़न

मनीपुर मैं हाल ही में मुनाक़िद हुए इंतेख़ाबात में अपने इत्मीनान बख्श मुज़ाहिरे के बाद तृणमूल कांग्रेस ने आज एक अहम ब्यान जारी करते हुए कहा कि अब वक़्त आ गया है कि पार्टी को क़ौमी सतह पर मुस्लिमा क़रार दिया जाएगा और क़ौमी सतह पर उस की शनाख

मनीपुर मैं हाल ही में मुनाक़िद हुए इंतेख़ाबात में अपने इत्मीनान बख्श मुज़ाहिरे के बाद तृणमूल कांग्रेस ने आज एक अहम ब्यान जारी करते हुए कहा कि अब वक़्त आ गया है कि पार्टी को क़ौमी सतह पर मुस्लिमा क़रार दिया जाएगा और क़ौमी सतह पर उस की शनाख़्त अमल में आएगी।

पार्टी के कल हिंद जनरल सेक्रेटरी मुकुल राय ने कहा कि किसी भी इलाक़ाई पार्टी को अगर क़ौमी सतह पर शनाख़्त की ज़रूरत हो तो इस के लिए लाज़िमी होता है कि वो कम-ओ-बेश चार रियास्तों में अपनी शनाख़्त क़ायम करे जबकि तृणमूल कांग्रेस ने तीन रियास्तों में ये कारनामा अंजाम दिया है।

मुकुल राय जो ममता बनर्जी के क़रीबी रफ़ीक़ तसव्वुर किए जाते हैं, ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस अब क़ौमी पार्टी की हैसियत से शनाख़्त बनाने की सिम्त गामज़न है। मनीपुर के बाद तृणमूल कांग्रेस को दीगर दो रियास्तों में भी मुस्लिमा क़रार दिए जाने का अमल जारी है जिन में बंगाल और अरूणाचल प्रदेश शामिल हैं।

मग़रिबी बंगाल में पार्टी ने 294 नशिस्तों के मिनजुमला 185 नशिस्तों पर क़ब्ज़ा किया और अरूणाचल प्रदेश में 60 के मिनजुमला पार्टी ने पाँच नशिस्तों पर कामयाबी हासिल की। मनीपुर में पार्टी का दाख़िला बिलकुल नया है और 60 रुकनी असेंबली में 7 नशिस्तों पर कामयाबी हासिल करते हुए तृणमूल कांग्रेस कलीदी अपोज़ीशन जमात बन चुकी है।

TOPPOPULARRECENT