Saturday , December 16 2017

तृप्ति देसाई की आलोचना करते हुयें उलेमा बोले कि औरत का मजार पे जाना गलत है

गुजरात के मुस्लिम नेता और कई मुस्लिम संगठनों ने धार्मिक आधार पर हाजी अली दरगाह में प्रवेश के संबंध में अपनी प्रतिक्रिया जताई है। वहीं जमाते इस्लामी ने तृप्ति देसाई की कड़ी आलोचना की है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

हाजी अली दरगाह में महिलाओं के जाने पर रोक लगाने के संबंध में ऑल इंडिया मिल्ली काउंसिल के गुजरात इकाई अध्यक्ष मुफ्ती रिजवान तारापवरी ने कहा कि इस्लामिक व्यवस्था में महिलाओं को कब्रिस्तान और दरगाहों पर जाने से मना किया गया है। मज़ार भी कब्रिस्तान का एक रूप है और ऐसी जगह पर औरतें अगर जाती हैं तो शरीयत का उल्लंघन होता है। अगर औरतो को इबादत करना है तो मस्जिद में जाए

वहीं जमाते इस्लामी गुजरात इकाई के अध्यक्ष शकील अहमद राजपूत ने भी तृप्ति देसाई के कदम की कड़ी निंदा की और कहा कि महिलाओं को कब्र पर जाने की मनाही है।तृप्ति देसाई ने घोषणा की कि वह 28 अप्रैल को हाजी अली दरगाह जाएंगे और वहां कब्र पर अपना माथा टिकें जाएगा।

TOPPOPULARRECENT