Saturday , June 23 2018

तेजपाल के खिलाफ सुनवाई पर रोक

सुप्रीम कोर्ट ने तहलका मैग्जीन के बानी और एडीटर तरूण तेजपाल को जुमे के रोज़ फौरी राहत देते हुए उनके खिलाफ एक खातून मुलाज़िम के जिंसी इस्तेहसाल के मामले की सुनवाई पर तीन हफ्ते की रोक लगा दी।

सुप्रीम कोर्ट ने तहलका मैग्जीन के बानी और एडीटर तरूण तेजपाल को जुमे के रोज़ फौरी राहत देते हुए उनके खिलाफ एक खातून मुलाज़िम के जिंसी इस्तेहसाल के मामले की सुनवाई पर तीन हफ्ते की रोक लगा दी।

चीफ जस्टिस एच एल दत्तू की सदारत वाली बेंच ने निचली अदालत को यह तय करने का हुक्म दिया कि मुल्ज़िम को मामले से मुताल्लिक सभी दस्तावेज फराहम कराए जाएं। अदालत ने दरखास्तगुजार तेजपाल को आगाह कर दिया है कि वह भी किसी न किसी बुनियाद पर मामले की सुनवाई में अडंगा लगाने से बचे।

दरखास्तगुजार की दलील है कि प्रासीक्यूशन एजेंसी अदालती अमल के रास्ते से भटक गई है और वह यह मानने को तैयार नहीं है कि फौरी सुनवाई भी मुन्सिफाना सुनवाई का ही एक पहलू है। दरखास्तगुजार ने गोवा की एडीशनल सेशन की अदालत के गुजश्ता 23 दिसम्बर के उस फैसले को चुनौती दी है जिसमें उसने इल्ज़ाम तय करने के लिए जिरह शुरू किए जाने को मंजूरी दे दी है।

TOPPOPULARRECENT