Monday , December 11 2017

तेलंगाना असेंबली में साबिक़ वज़ीरे आज़म पी वी नरसिम्हा राव के नाम पर तनाज़ा

तेलंगाना असेंबली में आज साबिक़ वज़ीरे आज़म पी वी नरसिम्हा राव के नाम पर फिर तनाज़ा पैदा हो गया। एक तरफ़ तेलुगु देशम और टी आर एस पी वी नरसिम्हा राव की विरासत और एहतेराम के सिलसिले में एक दूसरे पर सबक़त ले जाने की कोशिश करर ही थीं तो दूसरी तरफ़ कम्यूनिस्ट जमातों ने पी वी नरसिम्हा राव के बजाय एयरपोर्ट के नाम के लिए दीगर क़ाइदीन के नाम पेश किए।

मुस्लिम अरकान ने नरसिम्हा राव के नाम की मुख़ालिफ़त की और एयरपोर्ट को हज़रत बाबा शरफ़ उद्दीन (रह) के नाम से मौसूम करने की तजवीज़ पेश की क्योंकि जिस अराज़ी पर एयरपोर्ट तामीर किया गया वो इस दरगाह के तहत वक़्फ़ अराज़ी है।

तेलुगु देशम फ़्लोर लीडर दियाकर राव ने एयरपोर्ट का नाम पी वी नरसिम्हा राव से मौसूम करने की तजवीज़ पेश की और कहा कि तेलंगाना क़ाइदीन के एहतेराम के सिलसिला में तेलुगु देशम हमेशा आगे रही है।

लिहाज़ा हज़रत बाबा शरफ़ उद्दीन (रह) का नाम मौज़ूं रहेगा। वाई ऐस आर कांग्रेस, सी पी आई और सी पी एम की जानिब से मुजाहिदे आज़ादी कमरम भीम के नाम की तजवीज़ पेश की गई। सी पी आई रुक्न रवींद्र कुमार ने रावी नारायण रेड्डी, मख़दूम मही उद्दीन और दीगर तेलंगाना जहद कारों के नाम तजवीज़ किए।

TOPPOPULARRECENT