Thursday , April 26 2018

तेलंगाना का पांचवां बजट, अल्पसंख्यकों के लिए 2,500 करोड़ रुपये

हैदराबाद: तेलंगाना में आज बजट पेश कर दिया गया विधानसभा में बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री ई राजिंदर ने स्पष्ट किया कि गरीब और कमजोर वर्गों का विकास ही सरकार का लक्ष्य है। उन्होंने विधानसभा में पांच बार बजट प्रस्ताव पर खुशी का इज़हार किया उन्होंने कहा कि ये चुनाव बजट नहीं है बल्कि सार्वजनिक बजट है। उन्होंने कहा कि तेलंगाना में स्वर्ण नियम जारी है इच्छाओं को पुरा करने के लिए कदम उठाए गए हैं।

राज्य की खराब हालत से अब विकास की दिशा प्रगति की ओर‌ जा रही इस क्षेत्र में नई औद्योगिक नीति 6.4 प्रतिशत की दर से बढ़ी है। राज्य में कृषि विकास के कदम के साथ मिशन काकतिया द्वारा तालाबों को कारगर बनाया गया हर घर में समृद्धि और हर चेहरे पर खुशी देखना ही सरकार का लक्ष्य है।

सिंचाई परियोजनाओं को महत्व दिया गया है .कालेशोरम परियोजना दो साल में पूरी कर लिया जाएगा राजिंदर ने वर्ष 2018 19 के लिए वाक्यांश 1,74,453.84 करोड़ रुपये का बजट पेश किया जिसमें अल्पसंख्यकों के लिए 2,500 करोड़ रुपय‌ आवंटित किए गए हैं.इस बजट में सिंचाई विभाग के लिए 25 हजार करोड़ रुपय‌, गरीबों के लिए डबल बेड रूम मकान निर्माण की योजना के लिए 2643 करोड़ फसल विकसित करने के लिए वित्तीय सहायता 12000 करोड़ रुपय‌ किसानों को बीमा योजना के लिए 500 करोड़ रुपय‌, कृषि मिशनरी के लिए 522 करोड़ रुपय‌, पंचायत राज और ग्रामीण विकास के लिए 15,563 करोड़ रुपय‌, गुरुकुल स्कूल्स के लिए 2283 करोड़ रुपय‌, भवनों ोशवारि के लिए 5575 करोड़ रुपय‌, बिजली विभाग के लिए 6560 करोड़ रुपय‌, हैंडलूम व टेक्सटाइल विभाग के लिए 1200 करोड़ रुपय‌, उद्योगों के लिए 1286 करोड़ रुपय‌, आईटी विभाग के लिए 289 करोड़ रुपय‌, नगर पालिकाओं के लिए 7251 करोड़ रुपये, ग्रामीण विकास संस्थानों के लिए 1500 करोड़ रुपये, शहरों के विकास के लिए 1000 करोड़ रुपय‌, अनुसूचित जाति वर्ग के विकास एसटी सेक्टर 9 9 3 करोड़ के विकास के लिए 16,453 करोड़ रुपये के लिए काफ़्ती मामलों के लिए 58 करोड़ रुपय‌, याद गिरी मंदिर के विकास के लिए 58 करोड़ रुपय‌, वीमल वाड़ा मंदिर के विकास के लिए 100 करोड़ रुपये, भदरादरी मंदिर के विकास के लिए 100 करोड़ रुपय‌, बासर, धरमापवरी मंदिर‌ के विकास के लिए 50 करोड़ रुपये, दलितों में भूमि वितरण के लिए 1469 करोड़ रुपय‌, बीबीसी वर्ग के लिए 5920 करोड़ रुपय‌, एमबीसी निगम के लिए 100 करोड़ रुपय‌ विभाग बिजली के लिए 10,830 करोड़ रुपय‌, शिक्षा विभाग के लिए 10,830 करोड़ रुपय‌, वरंगल निगम के लिए 300 करोड़ रुपय‌, कलियाना लक्ष्मी और शादी मुबारक स्कीमात के लिए 1450 करोड़ रुपय‌, स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए, आवंटन को 7,375 करोड़ रूपये में आवंटित किया गया है।

TOPPOPULARRECENT