तेलंगाना के कई अज़ला में मूसलाधार बारिश का सिलसिला जारी

तेलंगाना के कई अज़ला में मूसलाधार बारिश का सिलसिला जारी
ख़लीज बंगाल में हवा के दबाव‌ में कमी के बाइस होने वाली बारिश का असर सिर्फ़ रियासत आंध्र प्रदेश में ही नहीं, बल्कि रियासत तेलंगाना के मुख़्तलिफ़ अज़ला में भी देखा जा रहा है, जिस के नतीजे में अज़ला में पाई जाने वाली नदियों की सतह आब में ज़

ख़लीज बंगाल में हवा के दबाव‌ में कमी के बाइस होने वाली बारिश का असर सिर्फ़ रियासत आंध्र प्रदेश में ही नहीं, बल्कि रियासत तेलंगाना के मुख़्तलिफ़ अज़ला में भी देखा जा रहा है, जिस के नतीजे में अज़ला में पाई जाने वाली नदियों की सतह आब में ज़बरदस्त इज़ाफ़ा हुआ है।

तूफ़ानी बारिश के बाइस आबादीयों में पानी जमा होने की वजह से घरों में भी पानी दाख़िल हो गया, जिस के नतीजे में मकीनों को ज़बरदस्त मसाइल से दो चार होना पड़ रहा है। तफ़सीलात के मुताबिक़ तेलंगाना रियासत के अज़ला आदिलाबाद, निज़ामबाद, वर्ंगल, करीमनगर, रंगारेड्डी वग़ैरा में पिछ्ले दो दिनों के दौरान हुई ज़बरदस्त तूफ़ानी बारिश के बाइस आम ज़िंदगी मुतास्सिर हुई है और घरों वग़ैरा में तूफ़ानी बारिश का पानी दाख़िल हो गया, खास्कर खम्मम के वरजीडो मंडल में वाक़्ये चीकूपली नदी के बहाव‌ में ज़बरदस्त इज़ाफे की वजह से 25 मवाज़आत के रास्ते मस्दूद हो गए।

पानी की निकासी के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले बर्क़ी मोटर्स भी पानी में डूब गए, यानी कोयला की कानों में पानी पहुंचने के बाइस कोयला की पैदावार पर काफ़ी असर हुआ है। ओपन कासट मायन (1, 2) में तक़रीबन 40 हज़ार टन कोयला की पैदावार नहीं होसकी। बताया जाता हैके खम्मम के भद्राचलम के पास 3 बजे दिन दरयाए गोदावरी की सतह आब में ज़बरदस्त इज़ाफा और ख़तरे के निशान से ऊपर पानी बहने पर इंतिबाह दिया गया है। भद्राचलम के पास फ़िलवक़्त दरयाए गोदावरी की सतह आब 45 फिट तक पहुंच जाने की इत्तिलाआत हैं।

Top Stories