तेलंगाना के तालाबों और झीलों के तहफ़्फ़ुज़ पर ज़ोर

तेलंगाना के तालाबों और झीलों के तहफ़्फ़ुज़ पर ज़ोर
वज़ीरे आबपाशी हरीश राव ने आज तमाम ज़िला कलेक्टर्स, चीफ़ इन्जीनियर्स और महकमा आबपाशी के आला ओहदेदारों के साथ वीडीयो कान्फ़्रैंस का एहतेमाम किया और मिशन काकतीया प्रोग्राम पर अमल आवरी का जायज़ा लिया।

वज़ीरे आबपाशी हरीश राव ने आज तमाम ज़िला कलेक्टर्स, चीफ़ इन्जीनियर्स और महकमा आबपाशी के आला ओहदेदारों के साथ वीडीयो कान्फ़्रैंस का एहतेमाम किया और मिशन काकतीया प्रोग्राम पर अमल आवरी का जायज़ा लिया।

उन्हों ने ज़िला कलेक्टर और ओहदेदारों को हिदायत दी कि इस प्रोग्राम की कामयाबी पर ख़ुसूसी तवज्जा दें क्योंकि इस प्रोग्राम का मक़सद तेलंगाना के तमाम तालाबों और झीलों का तहफ़्फ़ुज़ करना है ताकि उन्हें आबपाशी की ज़रूरीयात के लिए इस्तेमाल किया जा सके।

हरीश राव ने बताया कि पहले मरहला में 200 तालाबों और झीलों की निशानदेही की गई है जिन का तहफ़्फ़ुज़ करते हुए इन का अहया अमल में लाया जाएगा। उन्हों ने कहा कि मिशन काकतीया प्रोग्राम का मक़सद देही इलाक़ों में पानी की सरब्राही और खासतौर पर आबपाशी के लिए पानी की फ़राहमी को यक़ीनी बनाना है। हुकूमत ने इस प्रोग्राम के लिए ख़ुसूसी फ़ंड्ज़ मुख़तस किए हैं।

Top Stories