Tuesday , December 12 2017

तेलंगाना के लिए अलाहिदा हाइकोर्ट, चीफ़ जस्टिस आफ़ इंडिया का इत्तेफ़ाक़

चीफ़ जस्टिस सुप्रीम कोर्ट जस्टिस एच एल दत्तू से चीफ़ सेक्रेटरी तेलंगाना डॉ राजीव शर्मा ने नई दिल्ली में मुलाक़ात की।

चीफ़ जस्टिस सुप्रीम कोर्ट जस्टिस एच एल दत्तू से चीफ़ सेक्रेटरी तेलंगाना डॉ राजीव शर्मा ने नई दिल्ली में मुलाक़ात की।

इस मुलाक़ात के दौरान तेलंगाना के लिए अलाहिदा हाईकोर्ट के क़ियाम के मसले पर बातचीत की गई। चीफ़ सेक्रेटरी ने आंध्र प्रदेश की तक़सीम और अलाहिदा तेलंगाना रियासत के क़ियाम के बाद हाईकोर्ट की भी तक़सीम की ज़रूरत ज़ाहिर की।

उन्होंने तेलंगाना के लिए अलाहिदा हाईकोर्ट ना होने की सूरत में मुक़द्दमात की यकसूई में ताख़ीर जैसी वजूहात से चीफ़ जस्टिस को वाक़िफ़ किराया। बताया जाता हैके चीफ़ जस्टिस आफ़ इंडिया ने तेलंगाना के लिए अलाहिदा हाईकोर्ट के क़ियाम पर उसूली तौर पर इत्तेफ़ाक़ करलिया है।

किंग कोठी में वाक़्ये पर्दा गेट या इरम मंज़िल में वाक़्ये आर ऐंड बी की इमारत में तेलंगाना हाईकोर्ट के क़ियाम पर हुकूमत ग़ौर कररही है और इस सिलसिले में चीफ़ जस्टिस आफ़ इंडिया को भी इत्तेला दी गई।

मौजूदा हाईकोर्ट की इमारत जो पुराने शहर में वाक़्ये है वहां जगह की कमी के बाइस उसे उबूरी तौर पर आंध्र प्रदेश हुकूमत को अलॉट करने का फ़ैसला किया गया है।

10 बरसों तक हैदराबाद मुशतर्का दारुल हुकूमत रहेगा लिहाज़ा तेलंगाना हुकूमत ने आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट की इमारत को इस मुद्दत के लिए आंध्र प्रदेश को अलॉट करने से इत्तेफ़ाक़ किया है।

तेलंगाना हुकूमत अलाहिदा हाईकोर्ट की इमारत के लिए मौज़ूं मुक़ाम की तलाश में है। चीफ़ मिनिस्टर चन्द्रशेखर राव‌ ने पिछ्ले दिनों पर्दा गेट किंग कोठी और इरम मंज़िल का दौरा किया था ताकि वहां हाईकोर्ट के क़ियाम के इमकानात का जायज़ा लिया जा सके।

बताया जाता हैके चन्द्रशेखर राव‌ किंग कोठी में तेलंगाना हाईकोर्ट के क़ियाम को तर्जीह दे रहे हैं क्युंकि ये शहर का मर्कज़ी मुक़ाम है। दस बरस बाद तेलंगाना हाईकोर्ट पुराने शहर में वाक़्ये असली इमारत में मुंतक़िल होजाएगी।

चीफ़ मिनिस्टर ने अपने हालिया दौरा दिल्ली के मौके पर भी चीफ़ जस्टिस आफ़ इंडिया से मुलाक़ात की थी और तेलंगाना के लिए अलाहिदा हाईकोर्ट के क़ियाम की अपील की।

तेलंगाना हुकूमत को यक़ीन हैके चीफ़ जस्टिस आफ़ इंडिया बहुत जल्द अलाहिदा हाईकोर्ट के क़ियाम के सिलसिले में अहकामात जारी करेंगे और इस के मुताबिक़ जजस की तक़सीम-ए-अमल में आएगी।

TOPPOPULARRECENT