तेलंगाना के लिए फ़ैसलाकुन जद्द-ओ-जहद के लिए तैय्यार रहने अवाम से अपील

तेलंगाना के लिए फ़ैसलाकुन जद्द-ओ-जहद के लिए तैय्यार रहने अवाम से अपील

हैदराबाद। 19 नवंबर (सियासत न्यूज़) टी आर एस के रुकन असमबली के टी रामा राओ ने आज रंगा रेड्डी के मुख़्तलिफ़ इलाक़ों में तेलंगाना साधना पदयात्रा में हिस्सा लिया और अवाम से मुलाक़ात की। साबिक़ रियास्ती वज़ीर डाक्टर ए चन्द्र शेखर और दीगर क़

हैदराबाद। 19 नवंबर (सियासत न्यूज़) टी आर एस के रुकन असमबली के टी रामा राओ ने आज रंगा रेड्डी के मुख़्तलिफ़ इलाक़ों में तेलंगाना साधना पदयात्रा में हिस्सा लिया और अवाम से मुलाक़ात की। साबिक़ रियास्ती वज़ीर डाक्टर ए चन्द्र शेखर और दीगर क़ाइदीन के हमराह की गई इस पदयात्रा में के टी आर ने अवाम से अपील की कि वो तेलंगाना के हुसूल के लिए फ़ैसलाकुन जद्द-ओ-जहद को तैय्यार रहें।

पदयात्रा का जगह जगह शानदार इस्तिक़बाल किया गया और इस में हज़ारों की तादाद में टी आर ऐस कारकुनों और अवाम ने शिरकत की। रामा राओ ने अवाम से मुलाक़ात के दौरान उन के मसाइल के बारे में मालूमात हासिल कीं और कहा कि तेलंगाना राष्ट्रीय समीती आने वाले असमबली इजलास में अलैहदा रियासत के साथ साथ अवामी मसाइल की यकसूई के लिए जद्द-ओ-जहद करेगे। रामा राओ ने किसानों से मुलाक़ात करते हुए ख़ुशकसाली की सूरत-ए-हाल में हुकूमत की जानिब से उन्हें नजरअंदाज़ किए जाने पर अफ़सोस का इज़हार किया।

रामा राओ ने कहाकि तेलंगाना के 9 अज़ला में पद यात्रा की कामयाबी इस बात का सबूत है कि अवाम में अलैहदा रियासत के हुसूल का जज़बा सरगर्म है। उन्हों ने कहा कि एहतिजाज को वक़्ती तौर पर मुल्तवी किए जाने से बाअज़ गोशे ये ग़लतफ़हमी पैदा कररहे हैं कि तेलंगाना तहरीक ख़तम होगई। उन्हों ने कहा कि मर्कज़ी हुकूमत के ऐलान पर तिलहनगा ना क़ाइदीन नज़र रखे हुए हैं और जिस दिन मर्कज़ी हुकूमत अपने मौक़िफ़ का ऐलान करेगी इस एतबार से आइन्दा के लायेहा-ए-अमल को क़तईयत दी जाएगी। रामा राओ ने बताया कि पार्लीमैंट और असमबली के सरमाई इजलास में टी आर ऐस अरकान ऐवान की कार्रवाई चलने नहीं देंगे। उन्हों ने कांग्रेस और तेलगुदेशम से वाबस्ता तेलंगाना अरकान असमबली से अपील की कि वो इस एहतिजाज में टी आर इससे तआवुन करें।

उन्हों ने कहा कि सदर तेलगुदेशम एन चंद्रा बाबू नायडू किसानों के मसाइल पर तेलंगाना के इलाक़े में पदयात्रा कररहे हैं लेकिन वो तेलंगाना मसला पर अभी भी वाज़िह मौक़िफ़ नहीं रखती। उन्हों ने तेलगुदेशम के तेलंगाना क़ाइदीन को मश्वरा दिया कि वो चंद्रा बाबू नायडू को मजबूर करें कि वो तेलंगाना अवाम के दरमयान अपने मौक़िफ़ का इज़हार करें। किसानों को हुकूमत की जानिब से नजरअंदाज़ किए जाने का इल्ज़ाम आइद करते हुए रामा राओ ने कहा कि ख़ुशकसाली की सूरत-ए-हाल के बाइस तेलंगाना के 9 अज़ला के किसान बुरी तरह मुतास्सिर होचुके हैं। फसलों को भारी नुक़्सान के बाइस वो ख़ुदकुशी पर मजबूर होरहे हैं।

हुकूमत की जानिब से ख़ुशकसाली से मुतास्सिरा मंडलों का ऐलान किया गया लेकिन इस फ़हरिस्त में तेलंगाना के कई इलाक़ों को नजरअंदाज़ करदिया गया। उन्हों ने कहा कि सिर्फ ख़ुशकसाली से मुतास्सिरा इलाक़ा क़रार देने से मसला की यकसूई नहीं होगी। हुकूमत को चाहीए कि वो किसानों के लिए इमदादी पैकेज का ऐलान करी। उन्हों ने कहा कि रंगा रेड्डी में खासतौर पर टी आर उसने ज़रई शोबा को हुए नुक़्सानात का जायज़ा लेने का अमल शुरू किया है। इस बारे में हुकूमत को रिपोर्ट पेश की जाएगी। उन्हों ने हुकूमत से मुतालिबा किया कि रंगा रेड्डी में कॉटन कारपोरेशन आफ़ इंडिया की जानिब से कपास की ख़रीदी के मराकज़ क़ायम किए जाएं ताकि किसानों को सहूलत होसके।

Top Stories